Advertisement

मीरा-भायंदर में होम क्वारंटाइन नहीं होंगे मरीज

MBMC को ऐसी ढेरों शिकायतें मिल रही थी कि, होम क्वारंटाइन किये गए कोरोना के मरीज बाहर बेख़ौफ होकर घूमते हैं। इससे वे अपने साथ-साथ दूसरों के स्वास्थ्य को भी खतरे में डालते हैं।

मीरा-भायंदर में होम क्वारंटाइन नहीं होंगे मरीज
SHARES

मीरा भायंदर (mira-bhayander) शहर में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मरीजों की संख्या प्रतिदिन बढ़ रही है। जिसके बाद MBMC यानी मीरा भायंदर म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन ने निर्णय लिया है कि अब हल्के और मध्यम लक्षण वाले (mild symptoms) मरीजों को घरों में क्वारंटाइन (home quarantine) नहीं किया जाएगा।

 MBMC को ऐसी ढेरों शिकायतें मिल रही थी कि, होम क्वारंटाइन किये गए कोरोना के मरीज बाहर बेख़ौफ होकर घूमते हैं। इससे वे अपने साथ-साथ दूसरों के स्वास्थ्य को भी खतरे में डालते हैं। जिसके बाद से MBMC ने ऐसे मरीजों को घर मे रखने के बजाय कोरोना सेंटरों (Corona center) में रखने का निर्णय लिया है।

इसके अलावा ऐसे मरीजों का ऑक्सीजन लेवल भी चेक किया जाता है ताकि उनके शरीर मे कितनी ऑक्सीजन है इसका पता चल सके। यह कार्य कितने सारे लोग घर पर नहीं करते हैं। जिससे मरीजों के स्वास्थ्य में लगातार गिरावट आती जाती है। इसलिए अब मरीजों को कोरोना सेंटर में क्वारंटाइन किया जाएगा।

आपको बता दें कि मीरा भायंदर नगर निगम क्षेत्र (MBMC) में मंगलवार को 162 नए मरीज पाए गए। जबकि 4 मरीजों की मौत हो गई है। शहर में कोरोना रोगियों की कुल संख्या अब बढ़कर 4633 तक पहुंच गई है। जबकि मरने वालों की कुल संख्या अब 172 हो गई है। MBMC में हर दिन औसतन डेढ़ सौ नए मरीज मिल रहे हैं। अधिकांश कोरोना रोगियों में हल्के लक्षण पाए जा रहे हैं। ऐसे रोगियों को केंद्र सरकार के नए नियमों के अनुसार घर पर अलग-थलग करने की अनुमति थी, लेकिन अब उन्हें कोरोना सेंटर ले जाया जाएगा।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय