राममंदिर पर हादसा मतलब...मुक्ति मिलनी तय

 Mumbai
राममंदिर पर हादसा मतलब...मुक्ति मिलनी तय
राममंदिर पर हादसा मतलब...मुक्ति मिलनी तय
राममंदिर पर हादसा मतलब...मुक्ति मिलनी तय
राममंदिर पर हादसा मतलब...मुक्ति मिलनी तय
राममंदिर पर हादसा मतलब...मुक्ति मिलनी तय
See all

ट्रेन से होने वाले हादसों में दिन ब दिन इजाफा होता जा रहा है। हादसों में जान गंवाने वाले यात्रियों की मौत का एक बड़ा कारण यह भी है कि उन्हें हादसे के बाद तत्काल चिकित्सा नहीं मिल पाती। मुंबई के सभी स्टेशनों पर 108 नंबर की एंबुलेंस सेवा का उपलब्ध रहना आवश्यक है। बावजूद इसके कुछ स्टेशनों पर यह सुविधा आज तक उपलब्ध नहीं हो पाई है।

पश्चिम रेलवे के चर्चगेट से बोरीवली तक प्रत्येक स्टेशन पर 108 नंबर की सेवा की उपलब्धता जानने के लिए मुंबई लाइव की टीम ने सभी स्टेशनों का जायजा लिया। जिसमें सामने आया कि राममंदिर स्टेशन को छोड़कर पश्चिम रेलवे के बाकी सभी स्टेशनों पर 108 नंबर की सेवा की उपलब्ध है।

वहीं मध्य रेलवे के प्रत्येक स्टेशन का सर्वे करने पर ( सीएसटी से ठाणे) तक कई स्टेशनों पर एंबुलेंस नहीं है। जिनमें करीरोड,चिंचपोकली,सैन्डहर्स्ट रोड और मस्जिद स्टेशन शामिल हैं।

मध्य रेलवे के इन स्टेशनों पर नहीं है 108 सेवा -

  1. करीरोड
  2. चिंचपोकली
  3. सैन्डहर्स्ट रोड
  4. मस्जिद

पश्चिम रेलवे के इस स्टेशन पर 108 सेवा नहीं-

  1. राम मंदिर


मध्य रेलवे के करीरोड, चिंचपोकली, सैन्डहर्स्ट रोड और मस्जिद व पश्चिम रेलवे के राम मंदिर रेलवे स्टेशन पर आज भी 108 एंबुलेंस सेवा उपलब्ध नहीं है। जिससे इन स्टेशनों पर हादसे होने से हादसे के शिकार व्यक्ति को स्ट्रेचर पर ले जाया जाता है, या फिर प्राइवेट एंबुलेंस व टैक्सी से अस्पताल तक पहुंचाया जाता है। जिसमें 15 से 20 मिनट अधिक लग जाते हैं और घायल व्यक्ति की रास्ते में ही मौत हो जाती है।

पश्चिम रेलवे पर तैयार किए गए मंदिर स्टेशन पर अभी 108 एंबुलेंस सेवा नहीं दी गई है। आपातकालीन परिस्थिति में गोरेगांव से एंबुलेंस मंगवाया जाता है। जिसके बाद ही घायल को प्राथमिक उपचार दिया जाता है। यह बात नाम नहीं बताने की शर्त पर यहां के एक अधिकारी ने बताई।

Loading Comments