Advertisement

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि 'इन' लोगों को नहीं लगाई जाएगी कोरोना की वैक्सीन

टोपे ने कहा, प्रत्येक टीकाकरण केंद्र में पहले दिन 35,000 लोगों का टीकाकरण करने की कोशिश कर रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि 'इन' लोगों को नहीं लगाई जाएगी कोरोना की वैक्सीन
SHARES

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (pm narendra modi) द्वारा 16 जनवरी को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए देशव्यापी टीकाकरण (vaccination) अभियान का उद्घाटन करेंगे। उसके बाद से महाराष्ट्र सहित देश के सभी राज्यों कोरोना महामारी के खिलाफ टीकाकरण शुरू हो जाएगा।

इस बारे में महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (maharashtra health minister rajesh tope) ने बताया कि, केंद्र सरकार द्वारा जारी नियमों के अनुसार राज्य में टीकाकरण कार्यक्रम लागू होंगे, लेकिन इनमें से ऐसे भी लोगों को वर्गीकृत किया गया है, जिन्हें टीका नहीं लगाया जाएगा।

केंद्र सरकार द्वारा जारी किए गए दिशा निर्देशों के अनुसार, कोरोना का टीका 18 वर्ष से कम उम्र के लोगों, गर्भवती महिलाओं और किसी भी प्रकार की एलर्जी वाले लोगों को नहीं लगाया जाएगा। इसके अलावा, हार्ट के पेशेंट को भी टीका नहीं लगाया जाएगा। हालांकि केंद्र ने स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीका लगाना अनिवार्य किया है।

मीडिया से बात करते हुए, राजेश टोपे ने कहा कि टीकाकरण अभियान के तहत CoWin app पर अब तक 8 लाख लोग पंजीकृत करा चुके हैं। जिसके बाद बफर स्टॉक सहित 17 से साढ़े 17 खुराक की आवश्यकता होगी। लेकिन केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र को वैक्सीन की मात्र 9 लाख 73 हजार खुराक ही भेजी है, यानी आवश्यक खुराक का केवल 55% ही उपलब्ध है। टोपे ने कहा, केंद्र सरकार के निर्देशों के अनुसार, टीका लगाने वाले को 2 खुराक दी जाएगी। स्वास्थ्य कर्मचारियों को एक खुराक देने के बाद, दूसरी खुराक 4 से 6 सप्ताह के बाद दी जाएगी।

टोपे ने आगे कहा, प्रत्येक टीकाकरण केंद्र में पहले दिन 35,000 लोगों का टीकाकरण करने की कोशिश कर रहे हैं।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement