मझगांव में 200 करोड़ का जमीन घोटाला, बिल्डर पर मामला दर्ज

 Byculla
मझगांव में 200 करोड़ का जमीन घोटाला, बिल्डर पर मामला दर्ज

राज्य सरकार द्वारा लीज पर दी गई जमीन का दुरुपयोग पिछलें कुछ समय से बढ़ गया है। सरकार द्वारा दी गई जमीन को शिक्षा और सामाजिक कार्य के नाम पर लेने के बाद उसका दुरुपयोग कर वहा पर बिल्डिंगें बना दी जाती हैं। मझगांव में इसी तरह का घोटाला सामाने आया है। 200 करोड़ की एक जमीन को सरकार द्वार इजाजत ना मिलने के बाद लोहाना निवासी ट्रस्ट ने इस जमीन को एक बिल्डर को 3 करोड़ रुपये में बेच दिया था।

मझगांव में सरकारी जमीन 99 साल के लीज पर दी गई थी। इस जमीन को वुमेन्स फॉरेन मिशनरी सोसायटी ऑफ दि ऑपिस्कोपल चर्च को 1903 में दिया गया था। इस जमीन को चर्च ने लोहाना निवास गृह ट्रस्ट को रेंट पर दे रखा था। लोहाना निवास गृह ट्रस्ट ने 2010 में गोल्ड प्लाजा डेव्हलपर्स को बेच दिया था। अभी इस जमीन पर इमारत है जिसमें 150 से ज्यादा भाड़ोत्री रहते है।

इस बारे में राजस्व मंत्री चंद्रकात पाटील ने विधानसभा में बयान दिया की राज्य सरकार ने इस मामाले को गंभीरता से लिया है,साथ ही मुंबई शहर जिलाधिकारी ने कच्छी लोहाना निवास गृह ट्रस्ट औऱ मे. गोल्ड प्लाजा डेवलपर्स के खिलाफ भायखला पुलिस में मामला भी दर्ज करा दिया है।

Loading Comments