क्या है प्रवीण छेड़ा के गंभीर आरोप...जानें यहां

 Ghatkopar
क्या है प्रवीण छेड़ा के गंभीर आरोप...जानें यहां

मुंबई - मुंबई में रिहायशी सोसयाटियों के रास्तों के काम बीएमसी द्वारा नहीं किए जाते हैं, लेकिन घाटकोपर के गारोडिया नगर में एक प्राइवेट रास्ते को बीएमसी ने अपने खर्च पर बनवाया है और साथ ही इसके लिए किसी भी तरह का कोई भी ठेका नहीं निकाला गया है। विरोधी पक्षनेता प्रवीण छेडा ने इसकी जांच की मांग की है।

घाटकोपर गारोडियानगर में कुल 4 रास्ते हैं। इन चारों रास्तों को बीएमसी की ओर से बनाया गया है। बीएमसी कमिश्नर के आदेश के बाद इन चारों रास्तों को बनाया गया है। खुद बीएमसी कमिश्नर इसके कार्य की देखरेख करने आए थे। बीएमसी किसी भी तरह के प्राइवेट रोड का निर्माण नहीं करा सकती है और इस तरह के कार्य बीएमसी बिना नगरसेवक को बताए नहीं करती है।
छेड़ा ने कहा कि गारोडिया नगर में चार रास्ते किसकी मदद के लिए बनाए गए हैं इसकी जांच होनी चाहिए। मामले की गंभीरता को देखते हुए स्थायी समिति अध्यक्ष यशोधर फणसे महापालिका के अतिरिक्त आयुक्त संजय देशमुख को तुरंत इस मामले की जांच करने को कहा है।

Loading Comments