Advertisement

मुंबई: कोस्टल रोड में बनेगा देश का सबसे बड़ा भूमिगत सुरंग

कोस्टल रोड पर 2.082 किमी की दो सुरंगें होंगी। इन सुरंगों को खोदने के लिए चीन निर्मित टीबीएम का इस्तेमाल किया जाएगा।

मुंबई: कोस्टल रोड में बनेगा देश का सबसे बड़ा भूमिगत सुरंग
SHARES

मुंबई महानगरपालिका की महत्वाकांक्षी परियोजना कोस्टल रोड में देश की सबसे बड़ी भूमिगत सुरंग बनेगी। तटीय सड़क पर भूमिगत सुरंग पर काम जनवरी 22021 से शुरू होगा।  यह काम 18 महीने में पूरा होगा।

कोस्टल रोड पर 2.082 किमी की दो सुरंगें होंगी।  इन सुरंगों को खोदने के लिए चीन निर्मित टीबीएम का इस्तेमाल किया जाएगा। इस मशीन को 'मावला' नाम दिया गया है।  इस मशीन का व्यास 12.19 मीटर है।  यह भारत में अब तक की सबसे बड़ी व्यास की मशीन है।  कोस्टल रोड का 20% काम अब तक पूरा हो चुका है।  दिसंबर 2021 तक 55 प्रतिशत, दिसंबर 2022 तक 85 प्रतिशत और जुलाई 2023 तक 100 प्रतिशत काम होगा।

भूमिगत सुरंग में कुल 6 लेन होंगी। सुरंग का निर्माण एक विशेष तरीके से किया जा रहा है और सुरंग में किसी भी दुर्घटना के मामले में, एक आपातकालीन संदेश नगर निगम के आपातकालीन नियंत्रण कक्ष, मुंबई फायर ब्रिगेड, पुलिस और यातायात पुलिस को चला जाएगा जिससे तत्काल सहायता प्रदान करना संभव होगा।

मुंबई में ट्रैफिक जाम से निजात पाने के लिए कोस्टल रोड परियोजना महत्वपूर्ण है। इस परियोजना के तहत प्रिंसेस स्ट्रीट फ्लाईओवर से बांद्रा वर्ली सी-लिंक तक 10.58 किमी की समुद्री तटीय सड़क का काम किया जाएगा। यह सड़क वर्ली सी-लिंक से कांदिवली तक चलेगी।

Read this story in मराठी or English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें