सेव आरे पर मुख्यमंत्री को किया जा रहा गुमराह ?

 Mumbai
सेव आरे पर मुख्यमंत्री को किया जा रहा गुमराह ?
सेव आरे पर मुख्यमंत्री को किया जा रहा गुमराह ?
See all

मुंबई – आरे-2 योजना के तहत आरे में बन रहे कारशेड को लेकर कई पर्यावरण प्रेमियों सहित आरे के स्थानीय निवासी भी विरोध कर रहे हैं। आरे-2 के तहत आरे में कई पेड़ों को भी काटा गया साथ ही और भी पेड़ों को काटे जाने की योजना है। इस बात को लेकर विपक्षियों ने भी सरकार पर निशाना साधा था। इस मुद्दे को लेकर मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस की अध्यक्षता में मंगलवार को एक महत्वपूर्ण बैठक हुई जिसमें आरे और मुंबई मेट्रो वन कॉर्पोरेशन (एमएमआरसी) के अधिकारी भी शामिल हुए। इस बैठक में मुख्यमंत्री ने बिना पेड़ों को काटे और मेट्रो-2 के कारशेड के निर्माण की बात कही, लेकिन एमएमआरसी ने अपनी भूमिका पर तटस्थ रहते हुए इस योजना में किसी भी बदलाव के लिए इनकार किया। अंत में यह बैठक बिना किसी नतीजे के समाप्त हो गयी।


इस निर्माण को लेकर कुछ दिन पहले आरे सेव के सदस्यों ने मुख्यमंत्री से मुलाक़ात कर अपना पक्ष उनके सामने रखा था। उसी के बाद मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में इस बैठक को बुलाया गया था।

बैठक में उपस्थित सेव आरे के सदस्य स्टैलिन दयानंद ने बताया कि उनकी तरफ से मेट्रो-2 के कारशेड निर्माण आरे की जगह कलिना नाम सुझाया गया, कलिना में जगह भी पर्याप्त है और वहां कोई पेड़ भी नहीं है, लेकिन इस नाम को एमएमआरसीे के संचालक (प्रकल्प) एस. के. गुप्ता ने नकारते हुए कहा कि कलिना वाली जगह मेट्रो-2 के लिए योग्य नहीं है। स्टैैलिन ने आगे बताया कि जब हमने योग्य जगह की परिभाषा एस. के. गुप्ता से पूछा तो वे कोई संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाए। स्टैलिन ने आरोप लगाया कि एमएमआरसी ने मुख्यमंत्री के सामने आरे-2 को लेकर झूठी जानकारी दी। जब इस मामले में मुंबई लाइव की तरफ से एस. के. गुप्ता से सम्पर्क करके उनसे कलिना की जगह के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इस पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया।

Loading Comments