Advertisement

BDD चॉल पुनर्विकास परियोजना का पहला चरण शुरू

नायगांव बीडीडी चली से चल नंबर 5बी को खाली कराने और गिराने का काम आज से शुरू हो गया।

BDD चॉल पुनर्विकास परियोजना का पहला चरण शुरू
SHARES

नायगांव में बीडीडी ( BDD CHAWL)  चॉल के विध्वंस के बाद रिक्तियों को भरने के लिए नए इमारतो  के निर्माण के साथ नायगांव बीडीडी चॉल पुनर्विकास परियोजना का पहला चरण शुरू होने वाला है। बीडीडी चालीस की पुनर्विकास परियोजना को जल्द पूरा किया जाएगा। आवास मंत्री डॉ. जितेंद्र आव्हाड ने  इसकी जानकारी दी। 

मुंबई के नायगांव बीडीडी चली से चल नंबर 5बी को खाली कराने और गिराने का काम आज से शुरू हो गया।  साइट पर एक नए भवन का निर्माण जल्द ही शुरू हो जाएगा। इस अवसर पर आवास विभाग के प्रधान सचिव मिलिंद म्हैस्कर, म्हाडा के उपाध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी अनिल दिग्गीकर, म्हाडा मुंबई बोर्ड के मुख्य अधिकारी डॉ. योगेश म्हासे, कार्यपालक अभियंता प्रशांत धात्रक आदि उपस्थित थे।

इस अवसर पर मीडिया से बात करते हुए आवास मंत्री डॉ. आव्हाड ने कहा कि बीडीडी चाल के हर पत्थर का एक इतिहास है और ये चालें सामाजिक और सांस्कृतिक आंदोलन के लिए एक वसीयतनामा हैं।  नायगांव बीडीडी अपने निवासियों के जीवन स्तर को एक बड़े घर के सभी सुख-सुविधाओं के साथ 100 साल पुरानी चाली इमारत का पुनर्विकास करके उनके जीवन स्तर को ऊपर उठाने के सपने को साकार कर रहा है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री श उद्धव ठाकरे ने उपमुख्यमंत्री अजीत पवार के मार्गदर्शन में यह कार्य शुरू किया है। डॉ. आव्हाड ने कहा कि सरकार ने इस परियोजना के लिए म्हाडा को 'स्टीयरिंग एजेंसी' (नोडल एजेंसी) नियुक्त किया है।

नायगांव बीडीडी चाल पुनर्विकास परियोजना के पहले चरण में प्लॉट बी में 23 चालीसियों का पुनर्विकास किया जा रहा है और दूसरे चरण में प्लॉट ए में शेष 19 चालीसियों का पुनर्विकास किया जाएगा। नायगांव बीडीडी चॉल के पुनर्विकास चरण 1 के तहत प्लॉट बी में 23 भूखंडों में से, चॉल संख्या 5 बी, 8 बी और 22 बी में 175 भूखंड बीएमसी के केईएम के अंतर्गत हैं। 

यह भी पढ़ेBMC ने हवाई अड्डे पर अंतरराष्ट्रीय आगमन के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए

Read this story in English
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें