चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा बीडीडी पुनर्विकास का कार्य


  • चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा बीडीडी पुनर्विकास का कार्य
  • चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा बीडीडी पुनर्विकास का कार्य
  • चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा बीडीडी पुनर्विकास का कार्य
SHARE

नायगांव और ना. म. जोशी मार्ग स्थित बीडीडी चाल के पुनर्विकास का कार्य म्हाडा ने शुरू किया है और जल्द ही घरों की पात्रता निश्चित करने का काम भी शुरू होगा। इस बारे में मंडल की मुख्य अधिकारी सुभाष लाखे ने कहा कि बीडीडी चाल पुनर्विकास का कार्य बड़ा है इसका काम अच्छे से हो इसीलिए म्हाडा ने चरण बद्ध तरीके से कार्य करने का निर्णय लिया है। इसीलिए ना. म. जोशी मार्ग स्थित बीडीडी चाल के पुनर्विकास का कार्य तीन चरण, नायगांव का काम पाच चरण, वर्ली का काम पांच चरण इस तरह से कुल 13 चरणों में बीडीडी चाल के पुनर्विकास का कार्य होगा।

मंडल के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि नायगाव में 42, ना. म. जोशी में 32 तो वर्ली में सर्वाधिक 121 इमारत है। सभी रहिवासियों का एक साथ पात्रता निश्चित करना और पुनर्वसित इमारत बनाना इतनी जल्दी संभव नहीं है। इसीलिए मंडल ने चरण बद्ध तरीके से काम करने का निर्णय लिया है। पहले चरण के अनुसार कुछ इमारतों को बना कर उसमें रहिवासियों को स्थान्तरित करना और उनकी पात्रता निश्चित करना, पात्रता निश्चित करने के बाद घरों को कब्जे में देना है जबकि दुसरे चरण की शुरुआत करते हुए पुनर्विकास का काम न्याय पूर्वक हो और लोगो को उसकी जानकारी हो।


मंडल का दावा है कि चरणबद्ध तरीके से किया गया कार्य तेजी से होगा। मंडल ने आशा जताई है कि 7 सालों में विकास का काम पूरा कर लिया जाएगा, जबकि वर्ली के पुनर्विकास का कार्य ठेकेदार नियुक्त होने पर 8 सालों में काम पूरा हो जाएगा। अभियंता ने जानकारी देते हुए बताया कि वर्ली वाले काम के लिए निविदा मंगवाई गई है जिसे अच्छा प्रतिसाद मिला है। लेकिन बिल्डरों ने इसकी समय सीमा बढ़ाने की मांग की है। आशा जताई जा रही है कि आने वाले कुछ दिनों में वर्ली के पुनर्विकास का कार्य शुरू हो जाएगा।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें