औषधी वनस्पतियों का प्रदर्शन

मुलुंड - भारतीय संकृति में पेड़ों को जीवनदायिनी बताया गया है। इसी पेड़ों से अनेक दवाएं भी तैयार की जाती हैं। पेड़ों के महत्व को देखते हुए रविवार को मुलुंड के कालिदास नाट्यगृह परिसर में हरियाली संस्था और म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन टी विभाग के द्वारा औषधि वनस्पति का प्रदर्शन किया गया। इस प्रदर्शन में 160 प्रकार के अलग-अलग औषधीय पेड़ों को प्रदर्शन के लिए रखा गया था। हालांकि इन पेड़ों की जानकरी के लिए एक पुस्तिका भी रखी गयी थी,
लेकिन फिर भी इन वनस्पतियों का उपयोग कैसे किया जाता है, इस बात की जानकारी भी दी गयी। पिछले 20 सालों से पेड़ों के संरक्षण के लिए हरियाली संस्था की तरफ से कार्य किया जा रहा है। इस अवसर पर हरियाली संस्था ने इन वनस्पतियों के रख-रखाव की जानकारी तो दी ही साथ में इनके महत्त्व को भी बताया।

Loading Comments