ऑफिस में इस तरह से अपनी सेहत का रखें खयाल!

आज के समय में हमारा ज्दातर वक्त ऑफिस में ही गुजरता है। इसलिए हमें चाहिए कि हम अपनी सेहत के लिए जागरुक हों और ऑफिस में ही रहकर छोटी छोटी सी आदतों में बदलाव लाकर सेहतमंद बनें।

ऑफिस में इस तरह से अपनी सेहत का रखें खयाल!
SHARES

आज की जिंदगी भागदौड़ भरी और स्पर्धा की जिंदगी है। देखते ही देखते अपने ऑफिस का कार्यालय बदता जा रहा है। अपने दिन का सबसे ज्यादा समय हम ऑफिस में बिताते हैं। ऑफिस आज हमारा एक तरह से दूसरा घर बन गया है। कॉर्पोरेट ऑफिस में तो 8-10 घंटे एक जगह पर बैठकर काम करना होता है। पर एक जगह लगातार बैठना सेहत के लिए बहुत ही घातक है। पर हममें से कितने इस बात पर ध्यान देते हैं? इसलिए हम आपके लिए कुछ ऐसे टिप्स लेकर आए है, जिसका उपयोग करके आप ऑफिस में भी सेहतमंद बने रहेंगे।


चाय और कॉफी का सेवन कम से कम

8 से 10 घंटे काम करने के लिए एनर्जी बनी रहे इसके लिए ऑफिस के अधिकतर लोग ज्यादा से ज्यादा चाय और कॉफी का इस्तेमाल करते हैं। चाय और कॉफी के अधिक इस्तमाल से दांत की तकलीफ के साथ एसिडिटी भी बहुत ज्यादा बनती है। इसलिए चाय और कॉफी की जगह आप ग्रीन टी और गरम पानी पी सकते हैं।

लंच का निश्चित समय

काम के प्रेशर के चलते कई बार हम बहुत लेट लंच करते हैं। जिसकी वजह से हम मोटापा, आलस समेत कई बीमारियों के शिकार हो जाते हैं। हमें 12-1 बजे के बीच लंच कर लेना चाहिए। लंच करने के बाद कमसे कम 15 मिनट वॉक करना आवश्यक हैं।

पानी पीने की स्मार्ट तरकीब


काम के चक्क्र में हम कई बार पानी पीना ही भूल जाते हैं। जदिन भर में कमसे कम 3-4 लीटर पानी पीना आवश्यक हैं। इसलिए आपको चाहिए की अपनी डेस्क पर आकर्षक पानी की बॉटल रखें, उसपर आपकी नजर जाएगी तो आप समय से पानी पी सकेंगे।

आधे घंटे में वॉक


ज्यादा देर तक एक जगह पर बैठने से कमर पर और मन पर बुरा असर पड़ सकता है। इसलिए प्रत्येक आधे घंटे में जहग से उठकर थोड़ा चल लें। किसी भी काम के लिए अपने सहयोगी को कॉल करने की वजाय वहां खुद चले जाएं इससे जाने अंजाने में आपकी एक्सरसाइज हो जाएगी।

चेहरे पर पानी के छीटे

एकटक कंप्यूटर और मोबाईल की स्क्रीन पर देखने से दिमाग में तनाव पैदा होता है। इसका उपाय है कि समय समय पर आप अपने चेहरे और माथे पर पानी के छीटे मारते रहें।

म्युजिक थेरपी

कॉर्पोरेट ऑफिस लाईफ में आपको हररोज काम का टेन्शन होता है। असाइनमेंट, टार्गेट को लेकर आपको पूरी तरह से घेर लिया जाता है। म्युजिक थेरपी से स्ट्रेस में आने वाला व्यक्ति शांत हो जाता है। अपने डेली के स्ट्रेसफुल वातावरण से ब्रेक लेकर 10 मिनट का एक कोई सॉफ्ट म्युजिक सुन लें और फिर काम की शुरुआत करें। इसके सुनने से आप फ्रेश फील करेंगे और काम के लिए एक नई एनर्जी मिलेगी।

संबंधित विषय