'आलसी होना अच्छी बात है'

 Mumbai
'आलसी होना अच्छी बात है'

बचपन से ही हम यह कहावत सुनते और पढ़ते आ रहे हैं कि आलस्य मनुष्य का सबसे बड़ा दुश्मन होता है। नाना नानी, दादा दादी से इसके कई किस्से भी सुन चुके हैं। वैसे तो अर्ली मोर्निंग उठना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है लेकिन इसे आलस्य से भी जोड़ कर देखा जाता है। अगर आप देर तक सोते हैं तो घर के सीनियर आपको कई बार इसके लिए डांट भी लगाते हैं कि 'सुबह जल्दी उठने की आदत डालो, देर तक सोना ठीक नहीं।'

जैसे-जैसे समय बदला लोगो की सोच बदली और कार्य करने का तरीका भी। इस फेहरिस्त में आलसी लोगो की उपयोगिता भी सामने आई है। आलसी हमेशा से ही ख़राब नहीं होते वे अच्छे भी होते हैं। हमारे कई गैजेट्स हमें और भी आलसी बना रहे हैं। आज की दुनिया रिमोट की हो गई है, बैठे-बैठे रिमोट दबाइए सब काम होते जाएंगे। बचपन में एक कहानी सुनी थी की एक आलसी ने रेलवे सिग्नल का आविष्कार किया था क्योंकि उसे झंडी दिखाने बार बार उठाना पड़ता था।


आलसी होना अच्छी बात है-

अरबपति बिल गेट्स कहते हैं कि मैं किसी भी मुश्किल काम के लिए हमेशा आलसी व्यक्ति का चयन करूंगा...क्योंकि वह इसे करने का आसान तरीक़ा ढूंढ लेगा।

यह बात कई शोध में यह भी सामने आया है कि आलसी अन्य लोगों की अपेक्षा अपना कार्य अच्छे से करते हैं। एक शोध के अनुसार, जो लोग फिजिकल कार्य करने को लेकर आलसी करते है, उनका दिमाग काफी तेज़ होता है। इस तरह के लोग कभी बोर नहीं होते है। उनके दिमाग में कुछ न कुछ चलता ही रहता है।

जो लोग अपने काम से जी चुराते है वह ज्यादा बुद्धिमान होते है। इन लोगो की सोचने की क्षमता काफी अधिक रहती है। इस तरह के लोग अपनी कार्य क्षमता बढ़ा कर अपनी लाइफस्टाइल को बेहतर कर सकते है।

यही नहीं अमेरिका में हुए शोध के मुताबिक आलसी लोग ज्यादा बुद्धिमान होते हैं। इस शोध के लिए विशेषज्ञों ने 30 विचारकों और और गैर विचारकों का समूह बनाया और उनके कलाई पर एक विशेष तरह की डिवाइस लगाई गई और 7 दिन तक उसका अध्ययन किया गया।

इसमें पाया गया कि गैर विचारकों का समूह विचारकों के समूह से ज्यादा सक्रिय था। दरअसल शोधकर्ताओं का कहना था कि सक्रिय लोगों को अपने दिमाग को तरोताजा करने के लिए ज्यादा सक्रिय रखने की जरूरत पड़ती है. ऐसे लोगों बोरियत से बचने के लिए शारीरिक तौर पर भी एक्टिविटी करते हैं। इतना ही नहीं उच्च आईक्यू वाले लोग ज्यादा ऊबते भी नही हैं।

हालांकि शोध के बाद यह भी कहा गया कि आलसी लोग कितना भी बुद्धि के तेज हों अगर शारीरिक रूप से सक्रिय नहीं हैं तो वह बेकार ही साबित होंगे।


आलसियों के लिए जॉब


अंग्रेज़ी पढ़ाएं- आज के समय में जॉब कोई भी हो, अंग्रेजी की जरूरत हर जगह है। इसे आप अपने करियर में एक ऑप्शन की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं, जिसमें मेहनत भी नहीं करनी पडेगी और अच्‍छी कमाई भी हो जाएगी।


कंप्यूटर प्रोग्रामर- कई बार लोग ऑफिस के काम से नहीं रोजाना की ट्रैवलिंग से परेशान हो जाते हैं। ऐसे में आपके लिए कंप्यूटर प्रोग्रामर बनने का बेहतर विकल्‍प है


एक्सपर्ट बने- आपके पास थोड़ा भी तर्जुबा है तो आपको काउंसलर बनने और एक्‍सपर्ट राय देने के क्षेत्र में अपना हाथ अजमाना चाहिए। इससे दूसरों के साथ-साथ आपका भी करियर बन जाएगा।


फिल्मों में साइड भूमिका - फिल्मों में साइड भूमिकाओं को निभाकर भी अच्छा पैसा कमाया जा सकता है। इसमें करना कुछ नहीं होता, बस आगे, पीछे या जहाँ कहा जाता है वहीं खड़े हो जाना होता है। ये आलसी लोगों के लिए मोटी कमाई का बड़ा जरिया है।


स्लीप स्टडी - स्लीप स्टडी आलसी लोगों के लिए सोना से बेहतर कोई काम नहीं हो सकता है। ऐसे में वो स्लीप स्टडी में भाग ले सकते हैं। कई मेडिकल फर्म अपने अध्ययनों में सोने के लिए प्रतिभागियों को मौका देती हैं। इस दौरान अच्छा-खासा पैसा कमा सकते हैं।


वीडियो गेम टेस्टर - वीडियो गेम टेस्टर वीडियो गेम खेलना वाकई दिलचस्प होता है। ऐसे में वीडियो गेम टेस्टर की जॉब भी आपकी कमाई का अच्छा जरिया हो सकती है।


स्लीप टेस्टर - स्लीप टेस्टर होटल स्लीप टेस्टर का काम बेहतर है। इसमें होटल के बेड को चैक करने का काम होता है।

अगर आप आलसी होने के साथ साथ स्मार्ट भी हैं तो सी दुनिया में आपके लिए कई विकल्प मोजूद हैं। तो देर किस बात की है आलसी बनिये और दिमाग के घोड़े दौड़ाइये, फिर क्या है, आप भी कहेंगे कि 'आलस्य मनुष्य का सबसे बड़ा दोस्त है।'


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

 

 

 

Loading Comments