चुनावी रिजल्ट: राजनीतिक गलियारों के साथ सट्टेबाजार में भी बढ़ी सरगर्मी

एक अनुमान के मुताबिक सट्टा बाजार में लगभग 40 हजार करोड़ रूपये का सट्टा लग चुका है।

SHARE

देश के 5 राज्यों में हुए चुनाव् के नतीजों की घड़ी जैसे-जैसे नजदीक आते जा रही है वैसे-वैसे राजनीतिक गलियारों सहित सट्टा बाजारों में भी सरगर्मी बढ़ती जा रही है। एक अनुमान के मुताबिक सट्टा बाजार में लगभग 40 हजार करोड़ रूपये का सट्टा लग चुका है। आपको बता दें कि कई न्यूज चैनलों के एक्जिट पोल के मुताबिक राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी को कांग्रेस पटखनी दे सकती है।

लोकसभा चुनाव पर नजर 
सट्टा बाजार से जुड़े सूत्रों की माने तो राजस्थान, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में बीजेपी हार रही है और कांग्रेस जीत रही है लेकिन सट्टेबाजों का यह भी कहना है कि बीजेपी की हार भी इतनी आसान नहीं होगी। इन पांचों राज्यों में हार-जीत की गणित ही अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों का पैमाना तय करेंगे। इसीलिए बीजेपी ने भी एड़ी चोटी का जोर लगा दिया है भले ही उसके खिलाफ माहौल बना हो।

चुनावी हवा कांग्रेस के अनुकूल
सूत्र के मुताबिक सट्टा खेलने वाले सट्टेबाज तत्कालीन स्थितियों का अध्ययन कर और राजनीति के जानकारों से बात करने के बाद ही सट्टा खेलते हैं। जिस उम्मीदवार के हारने की संभावना अधिक होती है उस पर कम भाव लगाया जाता है और जिसके जितने के चांसेस अधिक होते हैं उस पर अधिक भाव लगाया जाता है। बदलते समीकरण के अनुसार सट्टाबाजार की दुनिया में राजस्थान और एमपी में कांग्रेस की हवा अनुकूल मानी जा रही है, जबकि छत्तीसगढ़ में बीजेपी कांग्रेस को कांटे की टक्कर दे सकती है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें