इच्छा शक्ति हो तभी मिलेगा सस्ता घर

दादर – मुंबईकरों को सस्ते घर देना संभव है, इसके लिए सिर्फ इच्छा शक्ति की कमी है। ये मानना है शिवसेना नेता अरविंद नेरकर का, जो मुंबई लाइव के कार्यक्रम ‘मुंबई नाका’ में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि पुरानी इमारतों को कब्जे में लेकर 4 एफएसआय देना चाहिए। मुंबई में सस्ते घर के विषय पर अभिनेता जयवंत वाडकर, भाजपा के मुंबई उपाध्यक्ष मिलिंद तुलसकर, अर्थशास्त्री अनिल गचके ने अपने-अपने विचार व्यक्त किए। अर्थशास्त्री अनिल गचके ने कहा कि आज मुंबई में सभी के लिए सस्ते घर नहीं होने के चलते उन्हें मुंबई के बाहर फेंका जा रहा है। अभिनेता जयंत वाडेकर ने कहा कि मुंबई में पुलिस कॉलोनी की हालत अत्यंत दयनीय स्थिति में हैं। वहीं भाजपा के मुंबई उपाध्यक्ष मिलिंद तुलसकर ने कहा कि भाजपा सरकार पुलिस समेत सभी लोगों को सस्ते घर देने का प्रयत्न कर रही है जिसका नतीजा दो वर्षों में देखने को मिलने लगेगा। जबकि अनिल गचके ने सीएम द्वारा अर्बन डेवलपमेंट अपने पास रखने पर भी सवाल उठाए और म्हाडा द्वारा खुद घर बनाने की पैरवी की। अरविंद नेरकर ने टेबल के नीचे से पैसे खाने यानि रिश्वतखोरी को रोकने के पहल की।

Loading Comments