Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,17,121
Recovered:
56,54,003
Deaths:
1,12,696
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
15,390
575
Maharashtra
1,47,354
9,350

कितने भी संकट आए, महाराष्ट्र सबसे आगे रहेगा- अजीत पवार


कितने भी संकट आए, महाराष्ट्र सबसे आगे रहेगा- अजीत पवार
SHARES

न जाने कितने ही संकट आए, यह महाराष्ट्र (Maharashtra)  न कभी झुकेगा, न झुकेगा। उपमुख्यमंत्री अजीत पवार  (Ajit pawar) ने कहा कि संकट पर काबू पाने के बाद महाविकास अघाड़ी के कार्यकाल में भी महाराष्ट्र सबसे आगे रहेगा।  अजीत पवार ने राकांपा की 22वीं वर्षगांठ के मौके पर पार्टी के प्रदेश कार्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत कर पार्टी कार्यकर्ताओं से बातचीत की।

अजित पवार ने कहा, आज राज्य में राकांपा की भागीदारी से महाविकास अघाड़ी की सरकार है। हम किसी भी ऐसे निर्णय की अनुमति नहीं देंगे जो लोगों के साथ अन्याय होगा।  कितनी भी आपदाएं आएं महाराष्ट्र न कभी झुकेगा, न झुकेगा।  वह इस बात की गवाही देते हैं कि यह महाराष्ट्र हर संकट से पार पाकर सबसे आगे होगा।

महाविकास अघाड़ी सरकार की ओर से हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से मुलाकात की है और मांग की है कि उन्हें 14वें वित्त आयोग से आरक्षण, जीएसटी, फसल बीमा, पैसा मिले और मराठी को कुलीन भाषा का दर्जा दिया जाए।


एनसीपी मराठा समुदाय (Maratha community)आरक्षण, ओबीसी समुदाय के राजनीतिक आरक्षण और अन्य मुद्दों पर भी काम करने के लिए प्रतिबद्ध है।  अजित पवार ने कहा कि राकांपा की भूमिका यह सुनिश्चित करना है कि किसी भी समाज के साथ अन्याय न हो।

पेट्रोल-डीजल की कीमतें सैकड़ों के करीब पहुंच रही हैं। घरेलू गैस की कीमतों में तेजी आई है।  हवाई-रेल यात्रा महंगी है।  बेरोजगारी तेजी से बढ़ी है।  हम इन सभी सवालों पर भी काम करना चाहते हैं।

राष्ट्रवादी पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं ने कोरोनोवायरस के दौरान लोगों की मदद करने की भूमिका निभाई।  आपको अन्य लोगों के प्रति जो सहायता प्रदान करते हैं, उसमें आपको अधिक भेदभावपूर्ण होना होगा।  उन्होंने आशा व्यक्त की कि महाविकास अघाड़ी द्वारा लिए गए जनकल्याण के निर्णयों को कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर ले जाएंगे।

भाजपा के राज में देश में दमन चरम पर है और लोकतंत्र को तोड़ने की कोशिश की जा रही है। पत्रकारों पर तरह-तरह की पाबंदियां लगाकर केंद्र सरकार की ओर से बोलने को मजबूर किया जा रहा है। अजीत पवार ने कहा, हम सभी लोकतंत्र को अक्षुण्ण रखने के लिए काम करना चाहते हैं।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें