पीएम तय कर लें, हंसना है या रोना है – राहुल गांधी

 Mumbai
पीएम तय कर लें, हंसना है या रोना है – राहुल गांधी
पीएम तय कर लें, हंसना है या रोना है – राहुल गांधी
पीएम तय कर लें, हंसना है या रोना है – राहुल गांधी
See all

बांद्रा – बांद्रा स्थित एमसीए में आयोजित पत्रकार परिषद में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि नोट बंद करने का निर्णय उनका (नरेंद्र मोदी) खुद का था, यहां तक कि वित्त मंत्री अरुण जेटली को भी इसकी खबर नहीं थी। राहुल गांधी ने कहा कि इस निर्णय से सिर्फ और सिर्फ आम आदमी परेशान हैं, बड़े लोग बैंक और एटीएम की कतारों में लगे नजर नहीं आते। मोदी पुणे की स्पीच में पहले हंसते हैं फिर आखिरी में रोते हैं वे निश्चय कर ले कि हंसना चाहते हैं या रोना। पीएम ने बीजेपी के नेताओं को नोट बंद होने से पहले यह जानकारी दे दी थी, उन्हें इसका खुलासा करना चाहिए, राहुल गांधी ने पीएम पर इस तरह का बड़ा आरोप मढ़ा। पत्रकार द्वारा मोदी की मां के बैंक में कतार में लगे होने के सवाल पर राहुल गांधी ने कहा कि मोदी और मेरी पद्धति अलग है।

राहुल ने आगे कहा कि अगर सरकार ब्लैक मनी खतम करना चाहती थी तो 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करके 2000 रुपए का नोट क्यों लाया, इसका मोदी सरकार को जवाब देना चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि जो काले धन के बड़े खिलाड़ी थे माल्ल्या और ललित मोदी वे तो देश ही छोड़कर चले गए। अब गरीब जनता को क्यों परेशान किया जा रहा है। इस समय जिनके घरों में शादियां हैं, पैसा जमा किया हुआ है शादी के खर्च के लिए, क्या वे भ्रष्टाचार हैं। आखिर में राहुल गांधी ने कहा कि चलो ठीक है अगर नोट बंदी का निर्णय ले लिया है तो गरीब जनता को होने वाली असुविधाओं को जल्द से जल्द सुलझाया जाना चाहिए।

बुधवार को राहुल गांधी भिवंडी कोर्ट में दाखिल होने वाले हैं। इसलिए वे मंगलवार को मुंबई आए जहां संजय निरूपम समेत कांग्रेस के अन्य नेता व कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया।

Loading Comments