मुंबई युवक कांग्रेस चुनाव नतीजा हुआ निरस्त, कामत खेमा को लगा झटका

देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी कांग्रेस के बुरे दिन अभी भी समाप्त नहीं हुए हैं। अभी हाल ही में हुए युवक कांग्रेस के चुनाव नतीजों पर रोक लगा दी गई है। यह रोक स्वयं सोनिया गांधी ने लगाई है। आरोप है कि चुनाव के दौरान बड़े पैमाने पर धांधली और पैसे का लेनदेन हुआ है। इसके कई सारे विडियो भी सामने आ रहे हैं जिसमें पैसे की मांग की गई है। यह आरोप अध्यक्ष पद के लिए लड़ रहे एनएसयूआई अध्यक्ष सूरज सिंह ठाकुर, इमरान खान और अभिषेक सावंत ने भी लगाए हैं। मुंबई लाइव के पास भी इस तरह का एक वीडियो हाथ लगा है। जिसमें साफ साफ दिख रहा है कि एक शख्स एक ही उम्मीदवार के निशान के सामने मुहर लगा रहा है।

मुंबई युवक कांग्रेस के अध्यक्ष, जिलाध्यक्ष और तहसील अध्यक्ष पद के लिए 8 और 9 जुलाई को मतदान हुआ था। एक गुट ने इस मतदान में धांधली का आरोप लगाते हुए विरोध दर्ज कराया। कांग्रेस के राष्ट्रिय सचिव सूरज हेगडे और प्रदेश रिटर्निंग ऑफिसर कुलदीप सिंगला ने अध्यक्ष पद पर विजयी उम्मीदवार और वर्तमान युवक कांग्रेस अध्यक्ष गणेश यादव का नाम घोषित किया।

विरोधी गुट ने आरोप लगाया कि सूरज यादव ने चुनाव में धांधली की है। काफी हो हल्ला को देखते हुए जब बात दिल्ली तक पहुंची तो, दिल्ली हाईकमान ने चुनाव के रिजल्ट को निरस्त कर दिया।

बता दें कि सूरज यादव पूर्व केन्द्रीय मंत्री गुरुदास कामत के गुट के माने जाते हैं। चुनाव परिणाम का निरस्त होना कामत के लिए एक झटका माना जा रहा है।


डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

(नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दे) 

 




Loading Comments