कांग्रेस मुक्त अंधेरी पश्चिम?

    Andheri
    कांग्रेस मुक्त अंधेरी पश्चिम?
    मुंबई  -  

    पीएम मोदी द्वारा दिया गया कांग्रेस मुक्त का नारा कहीं पूरा हो या न हो लेकिन मुंबई के अँधेरी पश्चिम में धीरे धीरे पूरा हो रहा है। एक समय अँधेरी पश्चिम को कांग्रेस का गढ़ माना जाता था, लेकिन इस समय इस पॉश इलाके में एक भी कांग्रेसी नेता नहीं बचा जो मुख्यधारा की राजनीति करता हो। इसी क्षेत्र की कांग्रेसी नेता ज्योत्स्ना दिघे भी बीजेपी में शामिल हो गई। इसके पहले भी इसी क्षेत्र के कांग्रेसी नेता जयवंत परब और पूर्व विरोधी पक्ष नेता देवेन्द्र आंबेरकर ने भी शिवसेना में प्रवेश कर कांग्रेस को झटका दिया है। इसी इलाके के कांग्रेस के पूर्व विधायक बलदेव खोसा भी है जो इस समय मुख्य धारा की राजनीति से बाहर हैं। इसी इलाके के गुरुदास कामत भी हैं जो राजनीति से अधिक अपने नाराजगी के कारण चर्चा में रहे, वे भी पार्टी के लिए अब कुछ ख़ास काम नहीं कर रहे हैं। इसी इलाके के मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम भी आते है, जब से मनपा चुनाव हारी है तब से निरुपम भी शांत हो गये है। यदा कदा उनकी खबर ही समाचार पत्र के अंदरूनी पन्नों पर छपती है।

    इस इलाके से कांग्रेस के करीब 5 से 6 बड़े नेताओं ने कांग्रेस को गुड बाय कहा। हालांकि अंधेरी के ही कांग्रेसी नेता मोहसिन हैदर की पत्नी ने मेहर हैदर ही एक मात्र ऐसी नेता बची हैं जो कांग्रेस पार्टी की वर्तमान नगरसेविका है।

    ज्योत्स्ना दिघे तीन बार नगरसेविका रह चुकी हैं। लेकिन इस बार वे बीजेपी के उम्मीदवार से हर गईं। इस बार के बीएमसी चुनाव में वॉर्ड नंबर 60 से पूर्व स्थायी समिति के अध्यक्ष यशोधर फणसे और ज्योत्स्ना दिघे मुख्य उम्मीदवार थे। लेकिन अंतिम समय में बीजेपी के तरफ से योगिराज दाभाडकर ने अपनी जीत दर्ज की।आखिरकार दिघे ने भी कांग्रेस को राम राम कहते हुए बीजेपी की दामन थाम ही लिया।

    चर्चाओ की माने तो कांग्रेसी की आपसी फूट ने भी बीजेपी और शिवसेना को फायदा पहुंचाया।ले दे कर कांग्रेस अब मोहसिन हैदर के कंधे पर ही टिकी है। अब हैदर कांग्रेस को कितने समय तक अपनी पीठ पर लाद कर चलते हैं यह तो आने वाला समय ही बताएगा।


    डाउनलोड करें Mumbai live APP और रहें हर छोटी बड़ी खबर से अपडेट।

    मुंबई से जुड़ी हर खबर की ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mumbai live के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।

    (नीचे दिए गये कमेंट बॉक्स में जाकर स्टोरी पर अपनी प्रतिक्रिया दें) 

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.