जाने राजनिति किसके लिए दुकानदारी ?

मुंबई - मुंबई में जबसे बीएमसी चुनाव का बिगुल बजा है, बड़े और छुट भइये नेता उभरकर सामने आ रहे हैं और बड़बोलापन इनकी पहचान बन रहा है। कई लोग तो परिवारवाद के नाम पर भी आगे बढ़ रहे हैं। वॉर्ड क्रमांक 221 से बीजेपी की तरफ से आकाश पुरोहित बीएमसी के चुनावी मैदान में उतरे हैं। आकाश पुरोहित विधायक और पूर्व बीजेपी मुबई अध्यक्ष राज पुरोहित के बेटे हैं। आकाश पुरोहित पहली बार राजनैतिक चुनाव लड़ रहे हैं, पर वे बोलने में कम नजर नहीं आ रहे, उन्होंने अपनी एक स्पीच में कहा है कि अगर आपके पास कोई दुकान है और 25 सालों से आप चला रहें तो इस दुकान को आप अपने बेटे को ही देंगे, आप किसी और को नहीं देंगे। उनका यह वक्तव्य राजनिति में परिवार वाद को पूरा समर्थन करता है। तो यहां पर सवाल उठता है कि क्या ऐसे लोगों के लिए राजनीति सिर्फ एक दुकानदारी है?

Loading Comments