कितनी सुरक्षित मंत्रालय की मुहर?

    Vidhan Bhavan
    कितनी सुरक्षित मंत्रालय की मुहर?
    मुंबई  -  

    नरिमन पॉईंट - मंत्रालय के समाज कल्याण विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर एक युवक से 10 लाख की ठगी करने के लिए समाज कल्याण विभाग के सचिव के स्टाम्प का इस्तेमाल करने की घटना से मंत्रालय की गोपनीयता और सुरक्षा पर सवाल खड़ा हो गया है। दुकानों पर आसानी से स्टाम्प बनाए जाने से भविष्य में इसका और भी गलत इस्तेमाल हो सकता है। इसके लिए डिजिटल हस्ताक्षर वाली प्रणाली शुरू करने की जरूरत है, लेकिन इस तरफ किसी का ध्यान नहीं जा रहा है। बता दें कि हनुमंत धायगुडे और अजित बेडगे नाम के दो आरोपियों ने एक युवक को समाज कल्याण विभाग में निरीक्षक पद पर नौकरी दिलाने का लालच दिया और बदले में 10 लाख रुपए ठग लिए। दोनों ने इसके लिए समाज कल्याण विभाग के सचिव के फर्जी मुहर वाला लेटर पीड़ित युवक को दिया। बाद में पूरे पैसे देने के बाद भी जब युवक को नौकरी नहीं मिली तो उसने मरीन ड्राइव पुलिस स्टेशन में शिकायत की।

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.