Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
43,43,727
Recovered:
36,09,796
Deaths:
65,284
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
56,153
3,882
Maharashtra
6,41,596
57,640

तृप्ति सावंत को पार्टी में शामिल कर BJP ने शिवसेना को दिया बड़ा झटका

आगामी BMC चुनावों को ध्यान में रखते हुए, भाजपा ने तृप्ति सावंत को पार्टी में शामिल कर शिवसेना को उसके घर में ही झटका दिया है।

तृप्ति सावंत को पार्टी में शामिल कर BJP ने शिवसेना को दिया बड़ा झटका
SHARES

बांद्रा पूर्व सीट पर हुए उप-चुनावों में पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा सांसद नारायण राणे (narayan rane) को हराने वाली तृप्ति सावंत (trupti sawant) मंगलवार को भाजपा में शामिल हो गईं।  इस राजनीतिक घटनाक्रम के मद्देनजर यह कहा जा रहा है कि बीजेपी (bjp) ने मुंबई नगर निगम चुनावों (bmv) की पृष्ठभूमि पर शिवसेना (shiv sena) को भारी झटका दिया है।

BJP विधायक अतुल भातखलकर (atul bhatkhalkar) ने ट्वीट कर लिखा कि, दिवंगत शिवसेना विधायक प्रकाश उर्फ बाला सावंत (bala sawant) की पत्नी तृप्ति सावंत आज भाजपा में नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हो गईं।  बेगड़ी हिंदुत्व से भगवा हिंदुत्व की ओर।

शिवसेना के वफादार विधायक प्रकाश उर्फ बाला सावंत की मृत्यु के बाद साल 2015 में बांद्रा पूर्व निर्वाचन क्षेत्र में उपचुनाव हुआ था। उस समय, सावंत की पत्नी तृप्ति सावंत को शिवसेना ने टिकट दिया था। उनके सामने कांग्रेस (Congress) के टिकट पर नारायण राणे चुनाव लड़ रहे थे, लेकिन राणे को सावंत ने करारी शिकस्त दी थी।

राणे के लिय यह चुनाव प्रतिष्ठा का विषय था क्योंकि यह उनके राजनीतिक भविष्य का सवाल था। लेकिन तृप्ति सावंत ने राणे को 19,008 मतों से हराया था।

उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) का घर 'मातोश्री' (matoshri) बांद्रा पूर्व क्षेत्र में है, जिसका प्रतिनिधित्व स्वर्गीय बाला सावंत किया करते थे। बाला सावंत मातोश्री के बहुत वफादार शिव सैनिक थे। उपचुनाव में इतनी शानदार जीत दर्ज करने के बाद भी, शिवसेना ने साल 2019 के विधानसभा चुनावों में तृप्ति सावंत को टिकट नहीं देकर उनकी जगह विश्वनाथ महाडेश्वर को मैदान में उतारा था। जिसके बाद तृप्ति सावंत ने विद्रोह कर दिया। और इसका फायदा हुआ, कांग्रेस के उम्मीदवार जीशान सिद्दीकी को, और वे इस विधानसभा सीट से जीत गए।

तब से, तृप्ति सावंत शिवसेना से नाराज चल रही थीं। आगामी BMC चुनावों को ध्यान में रखते हुए, भाजपा ने तृप्ति सावंत को पार्टी में शामिल कर शिवसेना को उसके घर में ही झटका दिया है।

विपक्ष के नेता देवेंद्र फड़नवीस (devendra fadnavis) ने तृप्ति सावंत का भाजपा में स्वागत किया। इस अवसर पर विधायक नितेश राणे, नारायण राणे के पुत्र भी उपस्थित थे।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें