इस IAS अधिकारी को फिर मिला ईमानदारी का इनाम, कमिश्नर पद से कर दी गयी छुट्टी

मुंढे के साथ अक्सर विवाद भी जुड़े हैं, अक्सर इनका टकराव नेताओं के साथ होता नजर आता है। यही कारण है कि 2016 से लेकर अब तक चार बार इनका ट्रांसफर हो चुका है। जबकि पिछले 12 सालों में 11 बार इनका तबादला हुआ है, इस बार इनका 12वां तबादला है।

SHARE

अपनी ईमानदारी के लिए काफी चर्चित हो चुके आईएएस ऑफिसर तुकाराम मुंडे का तबादला मुंबई में कर दिया गया है। मुंढे नासिक म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के कमिश्नर का कामकाज देख रहे थे। अब उस पद को नासिक के जिला अधिकारी देखेंगे। मुंढे मुंबई स्थित मंत्रालय के नियोजन विभाग में अपना पदभार संभालेंगे।

12 सालों में 11 बार तबादला
मुंढे के साथ अक्सर विवाद भी जुड़े हैं, अक्सर इनका टकराव नेताओं के साथ होता नजर आता है। यही कारण है कि 2016 से लेकर अब तक चार बार इनका ट्रांसफर हो चुका है। जबकि पिछले 12 सालों में 11 बार इनका तबादला हुआ है, इस बार इनका 12वां तबादला है।

अवैध निर्माणकार्य के खिलाफ
मुंढे को नासिक म्युनिसिपल कमिश्नर के पद पर नियुक्त हुए अभी मात्र 9 महीने ही हुआ था। जब से मुंढे वहां गए थे तब से उन्होंने अवैध निर्माणकार्य करने वाले लोगों की नाक में दम करके रखा हुआ था। इनके और नेताओं के बीच टकराव की खबरें लगातार सामने आ रही थीं। बीजेपी के कई नगरसेवक भी मुंढे के तबादले के पक्ष में थे। 

इसके पहले यह अफवाह उड़ी थी कि मुंढे की नियुक्ति उस्मानाबाद जिलाधिकारी के पद पर किया गया है लेकिन यह खबर गलत साबित हुई। मुंढे को नियोजन विभाग के सह सचिव का पद सौंपा गया है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें