'उंगली उठाओ' में रावते का सवाल 'मनसे है क्या ?'

    मुंबई  -  

    मुंबई – महाराष्ट्र के परिवहन मंत्री दिवाकर रावते ने मुंबई लाइव के कार्यक्रम ‘उंगली उठाओ’ में शिरकत किया। इस मौके पर उन्होंने तमाम मुद्दों पर बड़ी ही बेबाकी से अपना पक्ष रखा। उन्होंने जहां एक तरफ बीजेपी के साथ युति पर बात की तो दूसरी तरफ परिवहन सिस्टम में सुधार लाने की बात कही। बीजेपी के साथ युती के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि शिवसेना के साथ युती करने के पहले बीजेपी कहीं नहीं थी, युती के बाद ही बीजेपी का प्रसार हुआ। मोदी लहर में बीजेपी के उम्मीदवार चुन कर आए, लेकिन इस बीएमसी चुनाव में बीजेपी के पास कितनी ताकत है यह सामने आ जाएगा।

    फेसबुक और ट्विटर पर चल रहे लाइव प्रसारण में उन्होंने मुंबई लाइव टीम के साथ बात करते हुए आगे कहा कि हर किसी को शिवसेना अपनी लगती है। बीजेपी पर निशाना साधते हुए रावते ने कहा कि जो मौका देख कर आता है वह अधिक दिनों तक नहीं टिकता। यही नहीं रावते ने आगे कहा कि युती के बाद कांग्रेस और एनसीपी समाप्त हो गए। उन्होंने कहा कि उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में चुनाव लड़ने के लिए हमारी सेना तैयार है।
    एसटी परिवहन को लेकर उन्होंने कहा कि एसटी को पिछले 67 वर्षों में 2 हजार करोड़ का घाटा हुआ है, लेकिन मंत्री होने के बाद हमने सभी छूट समाप्त कर दिया जिसका रिजल्ट जल्द ही सामने आएगा। आरटीओ में दलालों को लेकर उन्होंने कहा कि आरटीओ से दलालों का राज खत्म करने का प्रयास कर रहे हैं। परिवहन मंत्री ने लोगों से निवेदन किया कि दलालों से काम करवाने से अच्छा है कि आम लोग खुद ही जाकर अपन काम करवाएं। उन्होंने परिवहन विभाग में जल्द ही एक हजार पदों के लिए भर्तियां निकाले जाने की बात कही।
    मनसे है क्या ?
    बीजेपी के साथ युती नहीं होने पर शिवसेना, मनसे के साथ कोई युती की संभावना तलाश करेगी इस सवाल पर उन्होंने खुद ही सवाल किया कि ‘मनसे है क्या?’ उन्होंने मनसे पर तंज कसते हुए कहा कि मनसे के साथ युती करना पड़ेगा तो नाड़ी की जांच करवानी पड़ेगी।

    Loading Comments

    संबंधित ख़बरें

    © 2018 MumbaiLive. All Rights Reserved.