'हेमंत करकरे को मेरे श्राप ने मारा'- बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर

भोपाल से बीजेपी की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने भोपाल में एक बैठक को संबोधित करते हुए कहा की हेमंत करकरे की मौत उनके श्राप के कारण हुई

SHARE

मध्य प्रदेश की भोपाल से बीजेपी की उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मुंबई हमले में शहीद हुए हेमंत करकरे को लेकर विवादित बयान दिया है।प्रज्ञा ठाकुर ने हेमंत करकरे पर उन्हें गलत तरीके से फसाने का आरोप लगाया है। साध्वी प्रज्ञा ठाकुर  के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा की '   'हेमंत करकरे ने मुझे गलत तरीके से फंसाया, मैंने कहा था कि सर्वनाश होगा और ठीक सवा महीने बाद आतंकियों ने उसे मार दिया'।

क्या कहा साध्वी प्रज्ञा ठाकूर ने

शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में साध्वी ने कहा, 'हेमंत करकरे मुझे यातनाएं देते थे,  मुझसे कुछ भी पूछते थे, मैंने कहा कि तेरे सर्वनाश होगा और ठीक सवा महीने बाद आतंकियों ने मार दिया,जिस दिन मैं गई थी उस दिन सूतक लग गया था.' । बीजेपी ने  साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को भोपाल संसदीय सीट पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह खिलाफ चुनावी मैदान में उतारा है।   

कौन थे हेमंत करकरे

हेमंत करकरे,  मुंबई के आतंक विरोधी दस्ते के प्रमुख थे। वे 26 नवम्बर   2008 को मुंबई में हुए श्रेणीबद्ध धमाकों और गोलीबारी का बहादुरी से सामना करते हुए शहीद हुए। हेमंत करकरे 1982  के आईपीएस अधिकारी थे। नागपुर के विश्वेश्वर रीजनल इंजीनियरिंग कॉलेज से इंजीनियरिंग की डिग्री लेने वाले करकरे ने डॉ॰ केपी रघुवंशी से मुंबई एटीएस के प्रमुख का पदभार ग्रहण किया था। 

हेमंत करकरे को मुंबई में हुए 26/11 आतंकी हमले के दौरान शहादत मिली , उनके इस योगदान को देखते हुए राष्ट्रपति ने उन्हे अशोक चक्र से सम्मानित किया था। मालेगांव ब्लास्ट सिलसिले में जब  साध्वी प्रज्ञा ठाकुर  को एटीएस ने गिरफ्तार किया तो उस समय एटीएस के प्रमुख हेमंत करकरे ही थे। 

संबंधित विषय