महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव- मानखुर्द शिवाजी नगर विधानसभा सीट


SHARE

मानखुर्द शिवाजी नगर  एक मुस्लिम बहुल इलाका है।  समाजवादी पार्टी का गढ़ रही यह सीट पिछले दो चुनावों से सपा के पास ही है। वर्तमान में यहां से सपा के दिग्‍गज नेता अबू आजमी यहां से विधायक चुने गए हैं। वह इस सीट से लगातार दूसरी बार विधायक चुने गए हैं। विभिन्‍न दलों के स्‍थानीय कार्यालय इस इलाके में होने के कारण यहां के लोग राजनीतिक गतिविधियों में बढ़चढ़कर हिस्‍सा लेते हैं। विखरोली, घाटकोपर जैसे इलाके से घिरा यह विधानसभा क्षेत्र मुंबई के पॉश इलाकों में शुमार है।

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में मानखुर्द शिवाजी नगर विधानसभा सीट से समाजवादी पार्टी ने अबू आजमी को उम्मीदवार बनाया है। बता दें कि अबू आजमी समाजवादी पार्टी की महाराष्ट्र इकाई के अध्यक्ष भी हैं। अबू आजमी के बारे में आपको बता दें कि राज्यसभा सदस्य भी रह चुके हैं। साल 2009 के विधानसभा चुनाव में आजमी ने मानखुर्द शिवाजी नगर सीट से चुनाव मैदान में उतरे। उनके सामने थे कांग्रेस के सईद अहमद, जिनको मात देते हुए अबू आजमी पहली बार विधायक चुने गए। इस चुनाव में अबू आजमी को 38435 वोट पड़े जबकि कांग्रेस के उम्मीदवार सईद अहमद को 24318 वोट मिले थे। 

इसके बाद साल 2014 के चुनाव में समाजवादी पार्टी ने एक बार फिर मानखुर्द शिवाजी नगर सीट से अबू आजमी को उम्मीदवार घोषित किया। इस चुनाव में लड़ाई शिवसेना के साथ रही और अबू आजमी एक बार फिर 41719 वोटों के साथ विधायक चुने गए। जबकि शिवसेना के सुरेश कृष्णाराव पाटिल 31782 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर थे। 

क्या है समस्या

342 बूथों वाले इस विधानसभा की हर गली में नशे की चपेट में आते बच्चे नजर आते हैं। दिन दहाड़े हत्याएं और दूसरे अपराधों का गढ़ बन गया है यह क्षेत्र।डंपिंग ग्राउंड के चलते यहां की बहुत बड़ी आबादी टीवी और दमे जैसी दूसरी बीमारियों से परेशान है। यहां ना कोई अच्छा सरकारी अस्पताल है और ना ही कोई बड़ा स्कूल। 

इस विधानसभा सीट में लगभग तीन लाख 50 हजार मतदाता हैं। इनमें एक लाख 62 हजार मुसलमान, 85 हजार मराठी 38 हजार उत्तर भारतीय, 15 हजार क्रिश्चन, आठ हजार गुजराती-राजस्थानी, एक हजार पंजाबी और अन्य मतदाता हैं।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें