फडणवीस कोई ज्योतिष नहीं हैं, सरकार बनेगी और पूरे 5 साल तक चलेगी- शरद पवार

सरकार गठन को लेकर पवार ने कहा कि, अगर राज्य की जनता किसी एक पार्टी को बहुमत देती तो आज यह स्थिति पैदा नहीं होती।

SHARE

महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार गठन करने को लेकर शिवसेना(shiv sena), एनसीपी(NCP) और कांग्रेस (congress) मिल कर अब बातचीत कर रह हैं। तीनों पार्टियों के नेता इस बातचीत को सकारात्मक बता रहे हैं। इसी कड़ी में एनसीपी चीफ शरद पवार (sharad pawar) ने कहा कि, हम ऐसी सरकार चाहते हैं जिनका मकसद विकास करना होगा। पवार ने दावा किया कि यह सरकार बनेगी और पूरे पांच साल का कार्यकाल पूरा करेगी।


इसके पहले इन तीनो पार्टियों के बीच चल रही बातचीत को लेकर देवेंद्र फडणवीस (devendra fadnavis) ने कहा था कि राज्य में 3 पार्टियों की सरकार नहीं चल सकती, एक बार फिर से बीजेपी (BJP) की सही सरकार चलेगी। इस पर शरद पवार ने पलटवार करते हुए कहा तंज कसा कि, मुझे नहीं मालूम कि फडणवीस ज्योतिषशास्त्र के भी विद्यार्थी हैं।  


पवार ने आगे कहा कि, मुझे याद है कि फडणवीस ने कहा था कि मैं फिर से आऊंगा। मैं उन्हें कुछ सालों से जानता हूं, लेकिन मुझे यह नहीं पता था कि वे ज्योतिषशास्त्र के भी विद्यार्थी हैं।


सरकार गठन को लेकर पवार ने कहा कि, अगर राज्य की जनता किसी एक पार्टी को बहुमत देती तो आज यह स्थिति पैदा नहीं होती। मेरी इच्छा है कि राज्य में स्थिर सरकार बने जो 5 साल तक शासन चलाये।

   

बता दें कि गुरुवार को इन तीनों पार्टियों के नेताओं की संयुक्त रूप से बैठक हुई। इस बैठक में एक न्यूनतम साझा कार्यक्रम (common minimum programme) का ड्राफ्ट तैयार कर लिया गया।


सूत्रों के अनुसार इस बैठक में महाराष्ट्र में मुस्लिमों को 5 प्रतिशत आरक्षण देना, शिवसेना द्वारा वीर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग से पीछे हटना जैसे मुद्दों पर सहमति बनी।  


संबंधित विषय
ताजा ख़बरें