सोनिया के साथ रविवार को मुलाकात कर सकते हैं पवार, कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर होगी फाइनल बात

अब देखना होगा कि एनसीपी-कांग्रेस के साथ बैठक में शिव सेना कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर सहमति होती है या नहीं? अगर सहमति होती है तो राज्य को महाशिवआघाड़ी के रूप में एक नया गठबंधन देखने को मिल सकता है।

SHARE


महाराष्ट्र में सत्ता गठन को लेकर सभी पार्टियां कवायद में जुटे हुए हैं। साथ मिल कर विधानसभा चुनाव लड़ने वाले कांग्रेस और एनसीपी अभी इसी कवायद में जुटे हुए हैं। अभी हाल ही में कांग्रेस और एनसीपी ने एक साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस कर के कहा था कि कुछ मुद्दे हमारे बीच हैं उसे सुलझाने के बाद ही शिव सेना के साथ सरकार गठन को लेकर बात की जाएगी। इसी कड़ी में बताया जा रहा है कि रविवार को एनसीपीए अध्यक्ष शरद पवार दिल्ली जाकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात कर सकते हैं।

क्या होगा मीटिंग में?

बताया जाता है कि इस मीटिंग में पवार सोनिया के साथ कॉमन मिनिमम प्रोग्राम मुद्दे पर बात कर सकते हैं। यही नहीं कयास इस बात के भी लगाए जा रहे हैं कि इसी बैठक के बाद एनसीपी और कांग्रेस के बीच सभी मुद्दों पर बात फाइनल हो जाएगी, और इसके बाद एनसीपी और कांग्रेस शिव सेना के कॉमन मिनिमम प्रोग्राम मुद्दे के साथ बैठक करेंगे, जिसमें सरकार गठन को तीनों पार्टी अपनी-अपनी बात सामने रखेगी। और हर मुद्दों को सुलझाने की कोशिश करेंगे। 

राजनीति के जानकारों की मानें तो आने वाले एक दो दिन शिव सेना के लिए काफी महत्वपूर्ण हो सकते हैं। जब से संजय राउत बीमार हुए हैं तब से खुद उद्धव मैदान में कूद पड़े हैं और जिम्मा खुद संभाले हुए हैं, हालाँकि राउत अब ठीक हो कर अस्पताल से डिस्चार्ज होकर बाहर आ गए हैं बावजूद इसके हर मुद्दे पर उद्धव की नजर है।

अब देखना होगा कि एनसीपी-कांग्रेस के साथ बैठक में शिव सेना कॉमन मिनिमम प्रोग्राम पर सहमति होती है या नहीं? अगर सहमति होती है तो राज्य को महाशिवआघाड़ी के रूप में एक नया गठबंधन देखने को मिल सकता है।

पढ़ें: सत्ता के लिए शिवसेना कांग्रेस और एनसीपी के बीच समीकरण तय?

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें