Advertisement

सिंगलस्क्रीन थिएटर शुरु करने की मांग के समर्थन में उतरीं एनसीपी नेता सुप्रिया सुले

कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए राज्य में मार्च से लॉकडाउन जारी हुआ और सिनेमा हॉल को बंद कर दिया गया। तबसे लेकर अभी तक सिनेमा हॉल नहीं खुले हैं।

सिंगलस्क्रीन थिएटर शुरु करने की मांग के समर्थन में उतरीं एनसीपी नेता सुप्रिया सुले
SHARES

पिछले 5 महीनों से राज्य में चल रहे लॉकडाउन के कारण, राज्य के थिएटर ऑपरेटरों को वित्तीय कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए, एनसीपी नेता सुप्रिया सुले ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से थिएटर संचालकों की मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार करने और सकारात्मक समाधान के साथ आने का अनुरोध किया है।

कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए राज्य में मार्च से लॉकडाउन जारी हुआ और सिनेमा हॉल को बंद कर दिया गया। तबसे लेकर अभी तक सिनेमा हॉल नहीं खुले हैं। महाराष्ट्र सरकार ने राज्य में मिशन स्टार्ट अगेन के तहत व्यापार को बढ़ावा देने के लिए कुछ हद तक लॉकडाउन में ढील दी है। लेकिन सिनेमा को अभी तक शुरू करने की अनुमति नहीं दी गई है।

यह भी पढ़ें:

सिनेमा बंद होने के कारण इसमें काम करने वाले कर्मचारियों के लिए कोई रोजगार नहीं बचा है। सिनेमाघरों की सीरीज वाली बड़ी कंपनियां नुकसान सह भी सकती हैं, पर सिंगल स्क्रीन सिनेमा वालो को भारी वित्तीय कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

सिनेमा ओनर्स एंड एक्जिबिटर्स एसोसिएशन और फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया महाराष्ट्र में सिनेमाघरों को फिर से खोलने की अनुमति मांग रही है। इस संबंध में एक बयान दोनों संगठनों द्वारा सांसद सुप्रिया सुले को दिया गया। जिसमें लिखा था कि कोरोना की पृष्ठभूमि में थिएटर बंद थे। नतीजतन, अब आर्थिक कठनाइयों का सामना करना पड़ रहा है, इसलिए इन्हें शुरु करने की अनुमति दी जानी चाहिए। 

सिनेमा ओनर्स एंड एक्झिबिटर्स असोसिएशन के अध्यक्ष व फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया के उपाध्यक्ष नितीन दातार ने आवेदन दिया है। जिसमें थियेटर ऑपरेटरों की विभिन्न मांगें शामिल हैं। सुप्रिया सुले ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मांग की है कि थिएटर संचालकों की मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाए और सकारात्मक समाधान निकाला जाए।

यह भी पढ़ें:



Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement