Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,97,587
Recovered:
57,53,290
Deaths:
1,19,303
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
14,577
863
Maharashtra
1,21,859
10,066

विधायक बच्चू कडू को किया गया नजरबंद, अंबानी के दफ्तर के बाहर किसानों के साथ करने वाले थे विरोध प्रदर्शन


विधायक बच्चू कडू को किया गया नजरबंद, अंबानी के दफ्तर के बाहर किसानों के साथ करने वाले थे विरोध प्रदर्शन
SHARES

दिल्ली (delhi) में चल रही किसान आंदोलन (farmer protest) की आग अब महाराष्ट्र तक भी पहुंच गई है। मोदी सरकार (modi government) द्वारा किसान बिल (farmer bill) के खिलाफ अब महाराष्ट्र में भी विरोध शुरू हो गया है। इसी कड़ी में प्रहार संगठन के अध्यक्ष और अमरावती जिले से निर्दलीय विधायक और महाराष्ट्र सरकार में राज्यमंत्री बच्चू कडू (bachhu kadu) भी इस बिल का विरोध कर रहे हैं। इस बिल के ख़िलाफ़ बच्चू कडू सैकड़ों किसानों के साथ मुंबई (mumbai) में मोर्चा निकालने वाले थे, लेकिन कोरोना (Covid19) को देखते हुए इस आंदोलन की इजाजत पुलिस ने नहीं दी। आखिर बच्चू कडू द्वारा नहीं मानने पर पुलिस ने उन्हें नजरबंद कर लिया था। हालांकि बाद में उन्हें छोड़ दिया गया।

बता दें कि राज्य शिक्षा मंत्री बच्चू कडू इस आंदोलन में भाग लेने के लिए आज सुबह नागपुर से मुंबई के लिए रवाना होनेे वालेे थे।  लेकिन नागपुर पुलिस ने उन्हें मुंबई जाने से रोक दिया और उन्हें गेस्ट हाउस में ही रखा।

हालांकि बाद में कुछ घंटे बाद, बच्चू कडु को छोड़ दिया गया और वे मुंबई के लिए रवाना हो गया। जब मीडिया ने उनसे पूछा कि, राज्य में मंत्री होने के बाद भी उन्हें पुलिस द्वारा क्यों रोका गया तो उन्होंने कहा, "पुलिस गलतफहमी का शिकार हो गई थी। जब मैंने इस बबात वरिष्ठों से बात की, तो उन्होंने मुझसे कहा कि आप दोपहर की उड़ान भर सकते हैं। मैं इसलिए जा रहा हूं क्योंकि मुझे अनुमति दी गई थी। मैं किसानों के आंदोलन में जाने के लिए सरकार को धन्यवाद देता हूं।"

उन्होंने आगे कहा, मुंबई में मोर्चा शांतिपूर्ण और प्रतीकात्मक है। मोदी सरकार अंबानी (ambani) और अडानी (adani) के नेतृत्व का अनुसरण कर रही है। इसलिए, मैं उनसे मोदी को समझाने का अनुरोध करूंगा कि वह किसानों के हित में एक कानून लाएं।"

गौरतलब है कि, बच्चू कडू मुंबई के बीकेसी (BKC) स्थित मुकेश अंबानी (mukesh ambani) के दफ्तर पर हजारों किसानों के साथ विरोध प्रदर्शन करने वाले थे। वे दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में

मुंबई केनकलेक्टर ऑफिस से लेकर BKC में स्थित अंबानी और अडानी के दफ्तर तक एक आंदोलन निकालने वाले थे। इस आंदोलन के लिए महाराष्ट्र के कोने-कोने से किसान मुंबई पहुंचे हुए हैं। इस आंदोलन को प्रहार संगठन के साथ साथ स्वाभिमानी शेतकरी संगठन सहित अन्य संगठनों का भी समर्थन हासिल है।

बच्चु कडु 23 दिसंबर को दिल्ली में भी किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए जाने वाले हैं।

संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें