राज ठाकरे को ED का नोटिस, मनसे करेगी ठाणे बंद का आव्हान


SHARE

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कोहिनूर सीटीएनएल लोन मामले में नोटिस भेजा है। अब जिसका विरोध मनसे कर रही है। इस विरोध के मद्देनजर मनसे ने ठाणे बंद का आव्हान किया है। मनसे का कहना है कि वह 22 अगस्त को सड़क पर उतर कर ईडी का विरोध करेगी। उसने अपील की है कि जरुरी होने पर ही घरों से लोग बाहर निकलें।

मनसे करेगी बंद का आव्हान 
मनसे के ठाणे और पालघर के अध्यक्ष अविनाश जाधव का कहना है कि 22 अगस्त को ईडी ने राज ठाकरे को पूछताछ के लिए बुलाया है। हम इसका विरोध करते हैं इस दिन हम इसके खिलाफ सड़क पर उतरेंगे।

जाधव ने आगे कहा कि हमने विरोध में बंद का आव्हान किया है। अगर लोग प्यार से बंद करेंगे तो अच्छा है नहीं तो हम मनसे स्टाइल ने बंद करवाएंगे। अगर कुछ भी घटना घटित होती है तो इसकी जिम्मेदार सरकार की होगी।


पढ़ें: राज ठाकरे ने अनुच्छेद 370 को लेकर मोदी सरकार पर साधा निशाना

क्या है मामला?
उन्मेष जोशी की कंपनी कोहिनूर सीटीएनएल पर आरोप है कि उसने अपने माध्यम से कोहिनूर मिल की जमीन खरीदी गई थी। इस पर कोहिनूर स्क्वायर नाम की बहुमंजिला इमारत बनाई गई।

कोहिनूर सीटीएनएल में राज ठाकरे की भी हिस्सेदारी थी। बाद में कंपनी ने घाटा दिखाते हुए अपनी हिस्सेदारी बेच दी जिसके बाद राज ने भी अपनी हिस्सेदारी बेच दी। इसका असर IL&FS पर हुआ और वह कर्ज में आ गई और उसका भुगतान नहीं कर सकी।  

कोहिनूर मिल की इस जमीन को 421 करोड़ रुपये में खरीदा गया था और IL&FS ने साल 2008 में  जमीन में 225 करोड़ का निवेश कर 50 फीसदी शेयर हासिल कर लिए। लेकिन बाद में आश्चर्यजनक रुप से कंपनी ने घाटा दिखाया और सिर्फ 90 करोड़ में अपनी हिस्सेदारी को बेच दिया। इसके बाद राज ने भी अपनी हिस्सेदारी बेच दी और कंपनी से अलग हो गए। इसी मामले में ईडी ने राज ठाकरे और उन्मेष जोशी को पूछताछ करने के लिए 22 अगस्त को पेश होने के लिए कहा है।

पढ़ें: मोदी भारत के नए हिटलर - संदीप देशपांडे

संबंधित विषय