SHARE

कर्नाटक चुनाव में बीजेपी की बढ़ती सीटों पर एमएनएस और शिवसेना ने सवाल उठाते हुए एक बार फिर से इसे ईवीएम की कृपा बताई है। जहां शिवसेना ने बैलेट पेपर पर चुनाव कराने की मांग की तो वहीँ एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे ने ट्वीट करते हुए लिखा कि 'इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जय हो'।

15 मई को जैसे ही कर्नाटक चुनाव के फैसले आने शुरू हुए। शुरू से ही बीजेपी बढ़त बनाई रही। रुझानों को देख कर लग रहा था कि एक बार फिर से मोदी मैजिक ने काम किया। इस चुनाव में बीजपी भले ही बड़ी पार्टी बन कर उभरी हो लेकिन उसे बहुमत मिलता नहीं दिख रहा है। बीजेपी की बढ़ती सीटों को देखते हुए एक बार फिर से ईवीएम पर भी सवाल उठने शुरू हो गए।

बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिवसेना के पक्ष प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एक न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा कि आखिर मुख्य चुनावों में जीतने वाली बीजपी उपचुनाव में क्यों हार जाती है। ईवीएम पर सवाल उठाते हुए उन्होंने आगे कहा कि ईवीएम की जगह बैलेट पेपर पर वोटिंग होनी चाहिए। यही नहीं एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे ने भी ईवीएम मशीन पर सवाल उठाया। उन्होंने ट्वीट किया कि 'इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन की जय हो'।

आपको बता दें कि यह कोई पहली बार नहीं है जब बीजपी की जीत पर ईवीएम मशीन पर सवाल उठाया गया हो। कांग्रेस सहित सभी विपक्षी पार्टियो ने कई बार बीजेपी पर ईवीएम को हैक करने का आरोप लगा बैलेट पेपर पर चुनाव कराने की मांग की है।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें