Advertisement

लीलावती अस्पताल से डिस्चार्ज हुए अमित ठाकरे

तबियत खराब होने के बाद उनका कोरोना (Covid-19) टेस्ट भी कराया गया था, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई। बावजूद इसके, कोरोना की स्थिति को देखते हुए, अमित ठाकरे को एहतियातन के तौर पर अस्पताल में भर्ती होने का फैसला किया गया था।

लीलावती अस्पताल से डिस्चार्ज हुए अमित ठाकरे
SHARES

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के अध्यक्ष राज ठाकरे (raj thackeray) के बेटे अमित ठाकरे (amit thackeray) को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। दो दिन पहले तबियत खराब होने के बाद उन्हें मुंबई के लीलावती अस्पताल (lilavati hospital) में भर्ती कराया गया था।

तबियत खराब होने के बाद उनका कोरोना (Covid-19) टेस्ट भी कराया गया था, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई। बावजूद इसके, कोरोना की स्थिति को देखते हुए, अमित ठाकरे को एहतियातन के तौर पर अस्पताल में भर्ती होने का फैसला किया गया था।

लीलावती अस्पताल में भर्ती होने के बाद अमित ठाकरे का मलेरिया (malaria) और अन्य बीमारियों का भी टेस्ट किया गया था। लेकिन वे सभी रिपोर्ट निगेटिव आए। उन्हें वायरल फीवर (viral fever) होने की संभावना को देखते हुुुए उन्हें एडमिट कर दिया गया। और आज ठीक होने के बाद उनकी छुट्टी कर दी गई।

बताया जाता है कि, कोरोना (Coronavirus काल के दौरान, अमित ठाकरे ने कई लोगों से मुलाकात की थी। उन्होंने राज्य सरकार के समक्ष आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं से जुड़ी समस्याओं का मुद्दा भी उठाया था। यही नहीं डॉक्टरों के एक प्रतिनिधिमंडल ने भी अमित ठाकरे से मुलाकात की थी और वेतन न मिलने का मुद्दा उठाया था। उसके बाद, अमित ठाकरे ने इस संबंध में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (uddhav thackeray) को एक पत्र भी लिखा था।

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement