Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,44,710
Recovered:
56,85,636
Deaths:
1,16,026
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
14,807
666
Maharashtra
1,39,960
9,830

राज्य में डेढ़ लाख लोगों ने खाया 'शिव भोजन' थाली, छगन भुजबल ने दी जानकारी

भुजबल ने यह भी कयास लगाया कि, अगर राज्य में शिव भोजन केंद्र का विस्तार होता है तो इसका लाभ उठाने वालों की संख्या भी बढ़ जाएगी।

राज्य में डेढ़ लाख लोगों ने खाया 'शिव भोजन' थाली, छगन भुजबल ने दी जानकारी
SHARES

सरकार ने दावा किया है कि, शिव भोजन थाली को लोगों द्वारा अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है खाद्य, शहरी आपूर्ति और उपभोक्ता मंत्री छगन भुजबल ने जानकारी देते हुए बताया कि, राज्य में अब तक 1  लाख 48  हजार 820 नागरिक शिव भोजन का लाभ उठा चुके हैं इस आधार पर कह सकते हैं कि शिव भोजन थाली लोगों को पसंद आ रहा है और इसका लाभ उठाने वाले लोगों की संख्या दिनों दिन बढ़ती ही जा रही है भुजबल ने यह भी कयास लगाया कि, अगर राज्य में शिव भोजन केंद्र का विस्तार होता है तो इसका लाभ उठाने वालों की संख्या भी बढ़ जाएगी

छगन भुजबल ने कहा, राज्य में गरीब, जरूरतमंद लोगों को बेहद ही सस्ते दर पर भोजन उपलब्ध कराने वाली 'शिवभोज' योजना राज्य व्यवस्थित तरीके से चल रही है। इस योजना को लोगों का अच्छा प्रतिसाद मिल रह है भविष्य में इस योजना का दायरा बढ़ाया जाएगा 

पढ़ें: 10 रुपए के 'शिव भोजन' का ऐसा होगा मेनू

फडणवीस ने कसा तंज 
इस योजना के शुरू होने के बाद विधानसभा में विपक्षी नेता देवेंद्र फडणवीस ने सिमित थाली की संख्या को लेकर उद्धव ठाकरे पर आरोप लगाया था उन्होंने कहा था कि, 12 करोड़ की आबादी वाले महाराष्ट्र में केवल 18,000 ही थाली नांदेड़ में, केवल 500 लोगों के लिए ही खाना, यह गरीबों के लिए एक मजाक है फडणवीस ने तंज कसते हुए कहा, इससे अधिक लोग तो लंगर में भोजन करते हैं

इस तरह ही 'शिव भोजन थाली'
आपको बता दें कि पिछले महीने ही 26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस के दिन उद्धव ठाकरे ने 'शिव भोजन थाली' योजना शुरू की। यह योजना राज्य सरकार के खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा कार्यान्वित की जा रही है। इस योजना के तहत गरीबों और जरूरतमंद लोगों को रियायती दर पर मात्र 10 रुपए में भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है।

इस समय राज्य में शिव भोजन के कुल 126 केंद्र हैं जहां आम 10 रुपए में ही थाली उपलब्ध कराई जा रही है इसके लिए दोपहर 12 बजे से लेकर 2 बजे तक का समय भी निश्चित किया गया है साथ ही हर जिले के लिए 1350 थाली की संख्या भी निर्धारित की गयी है, यानि इससे अधिक थाली नहीं बनाई जा सकती साथ ही एक केंद्र कम से कम 75 और अधिकतम 150 थाली से अधिक लोगों को भोजन नहीं दे सकता

पढ़ें: शिव भोजन- 10 रुपये में दाल,चावल, रोटी और सब्जी , खाने की क्वालिटी भी अच्छी

Read this story in मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें