वाहन चालकों को राहत, अन्य जिलों से भी बनवा सकेंगे वाहन का फिटनेस पेपर


SHARE

उन लोगों को महाराष्ट्र सरकार की तरफ से एक बड़ी राहत मिली है जिनके पास माल ढोने वाले गाड़ियां हैं और जिन्हे एक पूरे महाराष्ट्र में काम से आना जाना पड़ता है। परिवहन मंत्री दिवाकर रावते ने सोमवार को यह घोषणा की कि अब वाहन धारक अपने वाहन का फिटनेस प्रमाण पत्र महाराष्ट्र में कहीं से भी बनवा सकते हैं। इसके पहले जिस आरटीओं में वाहन पंजीकृत होता है उसी आरटीओ से प्रमाण पत्र जारी किया जाता था। मंत्रालय में हुयी बैठक में दिवाकर रावते ने यह जानकारी दी। इस बारे में सरकार जल्द अधिसूचना पेश करेगी।

किसी भी जिले से बन सकेगा वाहन का फिटनेस पेपर

सरकार की इस निर्णय से माल ढोने वाले वाहन धारकों को काफी राहत मिलेगी। अब तक फिटनेस प्रमाण पत्र आरटीओ जारी करता था, इस प्रक्रिया में काफी देरी होती थी जिससे वाहन धारक को काफी आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ता था क्योंकि उसकी गाड़ी फिटनेस प्रमाण पत्र न मिलने तक खड़ी रहती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। वाहन धारक महाराष्ट्र में कहीं पर भी होगा वह नजदीकी आरटीओ ऑफिस से गाड़ी का फिटनेस पेपर बनवा सकेगा।

हाईकोर्ट द्वारा तय किए गए उचित मानदंडों का भी ध्यान

बैठक में रावते ने कहा कि अगर कोई वाहन धारक अपने वाहन के साथ किसी दूसरे जिले में प्रवेश करता है और उस दौरान उसके वाहन के फिटनेस पेपर की अवधि समाप्त हो जाती है तो उसे अपना वाहन अपने जिले के आरटीओ में लाने की कोई आवश्यकता नहीं पड़ेगी, वह जिस भी जिले में हैं उस जिले के आरटीओं से वाहन का फिटनेस पेपर बनवा सकता है। रावते ने कहा कि जब आरटीओ वाहन धारक को फिटनेस पेपर जारी करेगा तो हाईकोर्ट के दिए गए सभी मानदंडों का उचित ध्यान रखा जायेगा।






संबंधित विषय
ताजा ख़बरें