पाकिस्तानी जेल में छह साल से बंद 'वीर' बिना 'ज़ारा' के वापस लौटेगा

हामिद अंसारी एक पाकिस्तानी लड़की के प्यार में पड़ कर साल 2012 में अवैध तरीके से पाकिस्तान पहुंच गया था। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया था।

SHARE

पाकिस्तान की जेल में छह साल से बंद मुंबई का रहने वाले हामिद निहाल अंसारी की सजा 15 दिसंबर को पूरी हो गयी है।पाकिस्तान अब उसे जल्द ही भारत भेज देगा, हालांकि अभी उसे आने में एक महीने का समय लग सकता है क्योंकि अभी कई औपचारिकताएं पूरी करना बाकी है जिन्हें पूरा करने में महिना भर लग सकता है। आपको बता दें कि हामिद अंसारी एक पाकिस्तानी लड़की के प्यार में पड़ कर साल 2012 में अवैध तरीके से पाकिस्तान पहुंच गया था। इसके बाद उसे  गिरफ्तार कर लिया गया था।

सरकार को कोर्ट ने लगाईं फटकार 
हामिद की रिहाई को लेकर उनके वकील ने सरकार की मंशा पर भी सवाल उठाया था, उन्होंने पेशावर हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा कि संघीय सरकार ने अंसारी की रिहाई को लेकर अभी तक कोई कदम नहीं उठाया है। इसेक बाद कोर्ट ने हामिद की रिहाई को लेकर सरकार को फटकार लगते हुए आदेश दिया कि सजा पूरी होने के बाद उसे जल्द से जल्द भारत वापस भेज दिया जाए। अटॉर्नी जनरल ने कोर्ट को जानकारी देते हुए कहा कि कैदी की रिहाई से संबंधित दस्तावेज अभी तक तैयार नहीं हैं। उन्होंने कहा कि दस्तावेज तैयार होने तक कैदी को एक महीने तक कैद में रखा जा सकता है। सरकार का जवाब सुनने के बाद कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि एक महीने के भीतर अंसारी की रिहाई से संंबंधित सभी औपचारिकताएं पूरी की जाए और वाघा बॉर्डर पर उसे भारतीय अफसरों के हवाले किया जाए।

क्या था मामला?
अंसारी की दोस्ती सोशल मीडिया के जरिये एक पाकिस्तानी लड़की से हुई थी। कुछ समय बाद दोनों एक दुसरे के प्यार में पड़ गये।साल 2012 में लड़की से मिलने हामिद अफगानिस्तान के रास्ते पाकिस्तान में अवैध रूप से दाखिल हुआ। अवैध रूप से घुसने के आरोप में पाकिस्तानी सेना ने उसे अपने कब्जे में ले लिया। उसपर फर्जी पाकिस्तानी आईडी कार्ड रखने का भी आरोप लगाया गया और 15 दिसंबर 2015 को तीन साल की जेल की सजा सुनाई गई।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें