नारायण राणे 16 अप्रैल को बीजेपी में करेंगे प्रवेश

 Mumbai
नारायण राणे 16 अप्रैल को बीजेपी में करेंगे प्रवेश

आखिरकार यह तय हो ही गया... महाराष्ट्र में जिस राजनैतिक भूकंप की अटकलें पिछले कई दिनों से लगाई जा रही थी, वह भूकंप 16 अप्रैल को होगा। महाराष्ट्र में होनेवाले इस भूकंप का केंद्र महाराष्ट्र से काफी दूर ओडिशा में होगा। कांग्रेस पार्टी में नाराज चल रहे नारायण राणे भारतीय जनता पार्टी का दामन थाम रहे हैं। नारायण राणे बीजेपी में जाएंगे, यह बात तय हैं। लेकिन राणे ने इस बात को लेकर न सिर्फ चुप्पी साध रखी हैं बल्कि, अपने नजदीकी कार्यकर्ताओं को भी इस बात की भनक नहीं लगने दी हैं। मुंबई लाइव के पास खबर की पुख्ता जानकारी है। ओडिशा में चल रहे बीजेपी के दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन का समापन 16 अप्रैल को हो रहा हैं। समापन के अवसर पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में नारायण राणे अपने दो पुत्रों समेत बीजेपीवासी हो जाएंगे। कुछ साल पहले शिवसेना से बाहर का रास्ता दिखाने के बाद नारायण राणे कांग्रेस में शामिल हुए। महाराष्ट्र में कांग्रेस के शासनकाल में राणे मंत्रिपद पर आसीन रहे। इस बीच नाराजगी का दौर भी कई बार चला। लेकिन, हर बार उनके बगावत की चिंगारी शोला बनने से पहले बुझ गयी। इस बार ऐसा नहीं होगा। कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी के पास अपनी नाराजगी राणे ने जताई थी। लेकिन राहुल ने राणे की नाराजगी को तर्जी नहीं दी।


इन हालातों में राणे ने अपने भाते से ‘नारायणअस्त्र’ निकालना सही समझा और कांग्रेस का ‘हाथ’ छोड बीजेपी के साथ जाने का निर्णय अब अमल में ला रहे हैं। नारायण राणे अपने जिस आक्रामक अंदाज के लिए जाने जाते हैं, उसी अंदाज में इस निर्णय को अमल में लाते दिखेंगे। वह कौन कांग्रेसी हैं जो कांग्रेस को छोडने में राणे का साथ देंगे? राणे को बीजेपी में क्या मिलेगा? यह सवाल गौण है। राणे कई दिनों से कोकण में जमे हुए थे। नारायण राणे कोकण से जल्दी-जल्दी में ओडिशा रवाना होने के लिए मुंबई लौटे। बता दे कि, नारायण राणे कांग्रेस छोडने की खबर के साथ इस खबर से जुडी हर जानकारी जो मुंबई लाइव ने दी हैं, सही साबित हुई है। नारायण राणे 16 अप्रैल को बीजेपी में जाएंगे, यह काले पत्थर की लकीर हैं। चकाचौंध करनेवाला राजनैतिक चमत्कार छोड़कर इस पत्थर की लकीर को कोई मिटा पाएगा, ऐसा नहीं लगता।



Loading Comments