Advertisement
COVID-19 CASES IN MAHARASHTRA
Total:
59,17,121
Recovered:
56,54,003
Deaths:
1,12,696
LATEST COVID-19 INFORMATION  →

Active Cases
Cases in last 1 day
Mumbai
15,390
575
Maharashtra
1,47,354
9,350

नवी मुंबई एयरपोर्ट के नाम को लेकर छिड़ी जंग, शिंदे ने कहा: बालासाहेब ठाकरे के नाम पर हो एयरपोर्ट

एक तरफ इस एयरपोर्ट का नाम DB पाटील रखने की मांग की जा रही है। इस नाम के लिए नवी मुंबई, पनवेल, कल्याण, ठाणे और रायगढ़ के नागरिको द्वारा सड़क पर उतर कर आंदोलन किया जा रहा है।

नवी मुंबई एयरपोर्ट के नाम को लेकर छिड़ी जंग, शिंदे ने कहा: बालासाहेब ठाकरे के नाम पर हो एयरपोर्ट
SHARES

नवी मुंबई (navi Mumbai) में बनने वाले इंटरनेशनल एयरपोर्ट (internal airport) के नाम को लेकर बड़ा छिड़ गया है। एक तरफ इस एयरपोर्ट का नाम DB पाटील रखने की मांग की जा रही है। इस नाम के लिए नवी मुंबई, पनवेल, कल्याण, ठाणे और रायगढ़ के नागरिको द्वारा सड़क पर उतर कर आंदोलन किया जा रहा है। तो वहीं दूसरी तरफ शिवसेना (shiv sena) कहना है कि, इस एयरपोर्ट का नाम बालासाहेब ठाकरे ( balasaheb thackeray) के नाम पर रखा जाए।

यही नही, शिवसेना नेता और शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे (eknath shinde) ने भी कहा कि, इस हवाई अड्डे का नाम बालासाहेब ठाकरे के नाम पर रखा जाएगा।

राज्य कैबिनेट की बैठक के बाद शहरी विकास मंत्री एकनाथ शिंदे ने मीडिया से बात की। इस मौके पर एकनाथ शिंदे ने कहा, '

मुख्यमंत्री ने यह आश्वासन दिया है कि, नवी मुंबई में एयरपोर्ट का नाम शिवसेना प्रमुख बालासाहेब ठाकरे के नाम पर रखा जाएगा। अगर भविष्य में कोई दूसरा बड़ा प्रोजेक्ट बनता है तो उसका नाम दिवंगत सांसद DB पाटिल के नाम पर रखा जाएगा।

शिंदे ने कहा, 'मुख्यमंत्री का यह कहना है कि, अगर किसी का नाम पहले दिया गया होता, और हम उस नाम को हटाकर शिवसेना प्रमुख का नाम रखते तो यह उचित नहीं होता। हम DB पाटिल का आदर करते हैं। DB पाटिल एक्शन कमेटी को दूसरी परियोजना के लिए एक नाम सुझाना चाहिए। इस संबंध में एक्शन कमेटी के साथ बैठक हो चुकी है। एक और बैठक होगी। मुझे आशा है कि यह बैठक एक सकारात्मक निर्णय की ओर ले जाएगा।'

नवी मुंबई में प्रस्तावित हवाई अड्डे (navi Mumbai airport) का नाम दिवंगत सांसद DB पाटिल के नाम रखे जाने की मांग की जा रही है।इस मांग को लेकर नवी मुंबई, ठाणे, पनवेल, कल्याण और रायगढ़ के निवासियों ने आंदोलन भी शुरू कर दिया है। मुंबई समेत अन्य इलाकों में मानव श्रृंखला बनाई गई। साथ ही राज्य के विभिन्न संगठनों और कुछ राजनीतिक दलों ने भी इस मांग का समर्थन किया है।

यह भी पढ़ें: नवी मुंबई: सुबह 7 से लेकर 2 बजे तक खुली रहेंगी दूकानें

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें