महाराष्ट्र की सत्ता को लेकर दिल्ली में गरमागरमी!

शरद पवार सोमवार को सोनिया गांधी से मिल सकते है

SHARE

राज्य में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम आने के एक हफ्ते से ज्यादा का समय होने के बाद भी अभी तक नई सरकार का चेहरा साफ नही हो पाया है। जहाँ एक ओर शिवसेना 50-50 के फार्मूले पर अड़ी है तो वही दूसरी ओर बीजेपी ने साफ कर दिया कि राज्य की नई सरकार देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में ही बनेगी।

कांग्रेस एनसीपी की बैठक

जहा एक ओर बीजेपी शिवसेना में आपसी तनाव कम होता नही दिख रहा है तो वही दूसरी ओर शिवसेना को समर्थन देने के लिए महाराष्ट्र कांग्रेस नेताओं की बैठक दिल्ली में कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी से हुई। महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओ ने सोनिया गांधी के साथ एक के बाद एक कई बैठक की और शिवसेना को समर्थन देने का प्रस्ताव भी रखा।

शरद पवार भी मिलेंगे सोनिया गांधी से

खबरें आ रही है कि शरद पवार सोमवार को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मिलने जा रहे हैं। बताया जा रहा है को सोनिया गांधी के सामने वह शिवसेना के समर्थन की बात रख सकते है। हालांकि शरद पवार इसके पहले भी कई बार कह चुके है कि जनता से उन्हें और कांग्रेस को विपक्ष में बैठने का जनादेश दिया है लिहाजा वह विपक्ष में ही बैठेंगे।

सोनिया गांधी फिलहाल शिवसेना को समर्थन देने से बच रही है। बताया जा रहा है की सोनिया गांधी शिवसेना के हिंदुत्ववादी छवि के कारण समर्थन देने से बच रही है।


संबंधित विषय
ताजा ख़बरें