SHARE

एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार का मानना है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में एक बड़ा परिवर्तन होगा और मोदी दोबारा प्रधानमंत्री नहीं बनेंगे। केंद्र और राज्य सरकार में परिवर्तन होगा। शरद पवार ने यह बातें न्यूज़ चैनल आज तक के एक कार्यक्रम मुंबई मंथन में इंटरव्यूह के दौरान कहीं।


'सत्ता के लगाया था आरोप' 

न्यूज चैनल आज तक के मंथन कार्यक्रम में शरद पवार ने यह भी दावा किया कि जब यूपीए सत्ता में थी तब बीजेपी ने उन पर भ्रष्टाचार के कोई आरोप लगाए थे, लेकिन अब वे (बीजेपी) चार सालों से सत्ता में हैं और इन आरोपों पर कुछ नहीं हुआ। ये सभी आरोप सिर्फ सत्ता पाने के लिए लगाए गए थे। 

'बीजेपी के साथ एनसीपी कभी नहीं' 

चुनाव में बीजेपी के साथ संभावित गठबंधन को लेकर पवार ने कहा कि एनसीपी किसी भी परिस्थिती में बीजेपी के साथ नहीं जाएगी। अगर नितिन गडकरी हो या पीएम नरेंद्र मोदी, कोई भी पहल करता है तो एनसीपी कभी भी बीजेपी के साथ अलायंस करना पसंद नहीं करेगी।

'एक व्यक्ति नहीं जीता सकता चुनाव' 

कांग्रेस के द्वारा पीएम उम्मीदवार राहुल गांधी का नाम प्रोजेक्ट करने के सवाल पर पवार का कहना है कि वर्तमान में जो राजनीतिक परिदृश्य है उसे देखते हुए ऐसा लगता है कि किसी एक व्यक्ति के नाम पर चुनाव नहीं जीता जा सकता।  

'सभी पार्टियों को आना होगा साथ' 

महाआघाड़ी पर बोलते हुये पवार ने कहा कि चुनाव में किसी एक पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिल सकता है इसीलिए महाआघाड़ी बनना चाहिए। मेरे सभी पार्टियों से अच्छे संबंध हैं, मैं सभी पार्टियों को साथ आने के लिए प्रयत्न करूंगा। अगर बीजेपी को हराना है तो सभी पार्टियों को एक साथ आना ही होगा।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें