Advertisement

अजित पवार हुए कोरोना मुक्त, अस्पताल से हुए डिस्चार्ज

होम क्वारंटाइन के 4-5 दिनों के बाद, उनकी कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आई जिसके बाद उन्हें ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

अजित पवार हुए कोरोना मुक्त, अस्पताल से हुए डिस्चार्ज
SHARES

राज्य के उपमुख्यमंत्री (dupty chief minister) और NCP नेता अजीत पवार (ajit pawar) कोरोना (Covid19) से मुक्त हो गए हैं, जिसके बाद उन्हें मुंबई केे ब्रीच कैंडी अस्पताल (beach candy hospital) से छुट्टी दे दी गई। उनका कोरोना टेस्ट निगेटिव आया था। एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले (supriya sule) ने व्हाट्सएप स्टेट्स (watsapp status) के माध्यम से इस संबंध में जानकारी दी।

सूत्रों के अनुसार घर लौटने के बाद, अजीत पवार (ajit pawar) लगभग एक सप्ताह के लिए घर पर आराम करेंगे।

एनसीपी नेता और उपमुख्यमंत्री अजीत पवार को थकान और शरीर में दर्द के कारण उन्होंने खुद को दो दिन तक होम क्वारंटाइन (home quarantine) कर लिया था। लेकिन बाद में तबियत और खराब होने के बाद उन्हें ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

कोरोना काल के दौरान अजीत पवार का काम पूरी तरह से चल रहा था। तालाबंदी (lockdown) के दौरान भी वे मंत्रालय में भी काम करते थे, अधिकारियों के साथ बैठकें करते थे। हालांकि, कोरोना के मामले में, वे हर चीज का ध्यान रखते थे।

यही नहीं उन्होंने कुछ सप्ताह पहले बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया था। दौरे से लौटने के बाद वे थका हुआ महसूस करने लगे और तबियत खराब होने की शिकायत की, जिसके बाद एहतियात तौर पर उनका कोरोना का परीक्षण भी कराया गया लेकिन उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई। उसके बाद भी, डॉक्टर की सलाह के अनुसार, अजीत पवार होम क्वारंटाइन हो गए। उन्होंने सरकार की बैठकों और पार्टी-स्तरीय कार्यक्रमों को भी रद्द कर दिया।  यहां तक कि वे एनसीपी में शामिल होने वाले एकनाथ खडसे (eknath khadse) के उद्घाटन समारोह में भी शामिल नहीं हो सके। अजित पवार अपने 'देवगिरी' निवास से दैनिक सरकारी काम कर रहे थे।

हालांकि, होम क्वारंटाइन के 4-5 दिनों के बाद, उनकी कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आई जिसके बाद उन्हें ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती कराया गया। 

अस्पताल में उपचार के बाद, वे कोरोना से मुक्त हो गए और आखिर में अस्पताल से उन्हें छुट्टी दे दी गई। इस बात की खबर सांसद सुप्रिया सुले ने अपने व्हाट्सएप स्टेटस के जरिए यह जानकारी दी है।  उन्होंने अस्पताल में डॉक्टरों और नर्सों को भी धन्यवाद दिया।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement
मुंबई लाइव की लेटेस्ट न्यूज़ को जानने के लिए अभी सब्सक्राइब करें