एनसीपी का लड़ाई-झगड़ा और निकालने की मांग

मुंबई - एनसीपी का गृह युद्ध पूरी दुनियां ने देखा, एनसीपी के पूर्व सांसद व पार्टी मुंबई अध्यक्ष और दूसरे राष्ट्रवादी के मुख्य प्रवक्ता किस तरह से एक दूसरे की इज्जत निकालने में लगे हैं। अब इन दोनों को एक मंच पर लाने की जिम्मेदारी एनसीपी के प्रदेशाध्यक्ष सुनील तटकरे की बढ़ गई है। मंगलवार की शाम एनसीपी की सभा में गोलीबारी की घटना सामने आई थी, जिसमें 7 लोग जख्मी हुए थे। इस सभा में एनसीपी के मुख्य प्रवक्ता नवाब मलिक उपस्थित थे। मलिक ने संजय दिना पाटील पर आरोप लगाया है कि यह हमला उन्होंने कराया है। साथ ही कहा था कि पाटील के हाथों में दो दो बंदूकें थी।

एनसीपी के इस गृह युद्द ने दूसरी राजनैतिक पार्टियों को बोलने का अवसर दिया है। राष्ट्रवादी युवक कांग्रेस ने संजय दिना पाटील को पार्टी से निकालने की मांग की है।

Loading Comments