चुनाव लड़ने में हिम्मत लगती है, नीलेश राणे ने आदित्य ठाकरे पर कसी टिप्पणी

लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में शिवसेना-भाजपा की महायुती को जबर्दस्त प्रतिसाद मिला है। महायुती ने राज्य की 48 सीटों में से 41 सीटें अपने नाम की हैं, ऐसी उम्मीदें जताई जा रही हैं कि आगामी विधानसभा के चुनाव में भी यही रूप रेखा दिखाई दे सकती है।

SHARE

युवासेना प्रमुख आदित्य ठाकरे विधान सभा का चुनाव लड़ सकते हैं, इस तरह की खबरें राजकीय गलियारों में फैल रही हैं। इस पर महाराष्ट्र स्वाभिमान पार्टी के नेता नीलेश राणे ने आदित्य पर तंज कसा है। उनका कहना है कि चुनाव लड़ने में हिम्मत लगती है। चुनाव में जय पराजय तो होती रहती है। परंतु दूसरे के बल पर जीतने वाले सिर्फ टिकट का ही बटवारा कर सकते हैं। केली आहे.

जीत की पुनरावृत्ती

लोकसभा चुनाव में महाराष्ट्र में शिवसेना-भाजपा की महायुती को जबर्दस्त प्रतिसाद मिला है। महायुती ने राज्य की 48 सीटों में से 41 सीटें अपने नाम की हैं, ऐसी उम्मीदें जताई जा रही हैं कि आगामी विधानसभा के चुनाव में भी यही रूप रेखा दिखाई दे सकती है। साथ ही युवासेना के पदाधिकारी चहते हैं कि इस चुनावी मैदान में आदित्याय ठाकरे भी उतरें और चुनाव लड़ें।

इंस्टा पर चुनावी माहौल

युवासेना के महासचिव वरूण सरदेसाई ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट पर लिखा, ‘यही समय है, यही अवसर है। महाराष्ट्र राह देख रहा है। इसके अलावा उन्होंने आदित्य का फोटो भी पोस्ट किया और टैग किया।

उनका मानना है कि शिवसेना के सचिव मिलिंद नार्वेकर, वरिष्ठ नेता मनोहर जोशी समेत अन्य नेता भी आदित्य ठाकरे को चुनाव लड़ने के लिए आगे लेकर आएंगे।  

राणे का तंज

एक बार फिर चर्चा शुरु हो गई है कि आदित्य ठाकरे चुनाव लड़ेंगे या नहीं। इससे पहले कहा जा रहा था कि आदित्य लोकसभा का चुनाव लड़ सकते हैं। परंतु इस बात को आदित्य ने खारिज कर दिया। शिवसेना के पूरे राजनैतिक समीकरण मातोश्री  पर हैंडिल किए जाते हैं। पर शिवसेना की स्थापना करने वाले शिवसेना प्रमुख स्व. बाला साहेब ठाकरे से लेकर किसी भी व्यक्ति ने चुनाव नहीं लड़े हैं। इस तरह का तंज कसते हुए राणे ने आदित्य पर तंज कसा।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें