नारायण राणे की स्वाभिमान पार्टी का बीजेपी में विलय

कणकवली विधानसभा से नितेश राणे बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे है।

SHARE

पूर्व मुख्यमंत्री और सांसद नारायण राणे ने अपनी स्वाभिमान पार्टी का विलय आज यानी की मंगलवार को बीजेपी में कर लिया।   कणकवली में  मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की उपस्थिती में  नितेश राणे और निलेश राणे की मौजूदगी में पार्टी का विलय किया गया। इस मौके पर नारायण राणे भी कार्यक्रम में उपस्थित थे। कणकवली विधानसभा से नितेश राणे बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे है।  नितेश के प्रचार के लिए मुख्यमंत्री मंगलवार को कणकवली आए हुए थे।  इस मौके पर नारायण राणे ने अपने साथ साथ अपनी पूरी पार्टी और कार्यकर्ताओं को भी बीजेपी की सदस्यता दिखाई।

राज्य में शिवसेना और बीजेपी मिलकर चुनाव लड़ रहे है।  हालांकी कणकवली में बीजेपी और शिवसेना के उम्मीदवार आमने सामने खड़े है।  शिवसेना ने भी इस विधानसभा से अपना उम्मीदवार उतारा है। लंबे समय से नारायण राणे के बीजेपी में शामिल होने की चर्चा थी लेकिन शिवसेना  के विरोध के चलते मामला टलता जा रहा था। दरअसल राणे शिवसेना छोड़कर कांग्रेस  में शामिल हुए थे और तभी से शिवसेना और नारायण राणे के बीच छत्तीस का आंकड़ा था। 

स्वाभिमान पक्ष के बीजेपी में विलीन होने के मौके पर आयोजित सभा में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने दावा किया कि नीतेश राणे की जीत 70 प्रतिशत से ज्यादा वोटों से होगी। देवेंद्र फडणवीस ने इस मौके पर कहा नारायण राणे के काम और अनुभव का फायदा पार्टी को मिलेगा।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें