सलामत रहे दोस्ताना हमारा

मुंबई - अपनी सहयोगी सत्ताधारी पार्टी बीजेपी से तमाम मुद्दों को लेकर शिवसेना नाराज चल रही है। जिसे लेकर शिव स्मारक के भूमिपूजन कार्यक्रम में उद्धव ठाकरे की उपस्थिति को लेकर भी संशय के बादल मंडराने लगे थे। जैसे ही बीजेपी को इस बात का आभास हुआ उसने उद्धव की नाराजगी को दूर करने की जवाबदारी चंद्रकांत पाटिल और विनोद तावडे जैसे कद्दावर मंत्रियों के कंधों पर डाल दी।

बुधवार सुबह पाटिल और तावडे ने मातोश्री जाकर ठाकरे से भेंट की और उन्हें शिव स्मारक के भूमिपूजन का आमंत्रण दिया। जिसे उद्धव ने स्वीकार कर लिया। जिसके बाद माना जा रहा है कि दोनों मंत्रियों ने उद्धव की नाराजगी दूर कर दिया है। पाटिल ने स्पष्ट किया कि भूमिपूजन कार्यक्रम में प्रधानमंत्री सहित पांच लोग उपस्थित रहेंगे, जिसमें से उद्धव भी एक होंगे।

Loading Comments