Advertisement

BJP के बागी नेता एकनाथ खडसे इस शुभ मुहूर्त में कर सकते हैं NCP में प्रवेश

पाटिल ने यह भी कह कर BJP को परेशान करने की कोशिश की कि, एकनाथ खडसे के साथ, और भी कई नेता BJP को छोड़कर एनसीपी में शामिल होने के इच्छुक हैं।

BJP के बागी नेता एकनाथ खडसे इस शुभ मुहूर्त में कर सकते हैं NCP में प्रवेश
SHARES

BJP से नाराज चल रहे वरिष्ठ नेता एकनाथ खडसे (eknath khadse) को लेकर चर्चा है कि, वे BJP को जय महाराष्ट्र कह कर 23 अक्टूबर शुक्रवार को आधिकारिक रूप से एनसीपी में शामिल हो सकते हैं। NCP के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल (jayant patil) ने खुद यह घोषणा की है। खडसे का यह प्रवेश उत्तर महाराष्ट्र में भाजपा के लिए एक बड़ा झटका साबित हो सकता है।

पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र की राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा आम हो चुकी है कि, एकनाथ खडसे BJP छोड़ कर जल्द ही एनसीपी (NCP) में शामिल हो सकते हैं। महाराष्ट्र के गृह मंत्री और NCP नेता अनिल देशमुख (anil deshmukh) और खडसे केे बीच हुई एक मीटिंग के बाद तो इस चर्चा को और हवा मिल गई।

और रही सही कसर NCP नेता जयंत पाटिल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह कह कर पूरी कर दी कि, खडसे NCP की घड़ी पहन सकते हैं।

जयंत पाटिल ने आगे कहा कि, एकनाथ खडसे ने महाराष्ट्र में भाजपा का विस्तार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। लेकिन उन्होंने हमें बताया कि, उनके साथ पार्टी द्वारा गलत व्यवहार किया जा रहा था, इसलिए उन्होंने अब पार्टी छोड़ दिया है।

इसके बाद ही खडसे जैसे अनुभवी नेता को एनसीपी में शामिल करने का फैसला किया गया है। एकनाथ खडसे शुक्रवार दोपहर 2 बजे आधिकारिक रूप से एनसीपी में शामिल होंगे।

हालांकि NCP उन्हें क्या जिम्मेदारी देगी अभी इस बात का खुलासा नहीं हुआ है।

पाटिल ने यह भी कह कर BJP को परेशान करने की कोशिश की कि, एकनाथ खडसे के साथ, और भी कई नेता BJP को छोड़कर एनसीपी में शामिल होने के इच्छुक हैं। लेकिन कोरोना (Coronavirus) संकट में, विधानसभा चुनाव कराना ठीक नहीं होगा। इसलिए अगले कुछ दिनों में इन नेताओं को धीरे-धीरे प्रवेश दिया जाएगा।

उन्होंने आगे कहा, कोई भी विधायक या नेता जो एनसीपी में शामिल होता है, वह सार्वजनिक रूप से होगा, किसी को भी चोरी छुपे अंधेरे में प्रवेश नहीं कराने दिया जाएगा।

जयंत पाटिल ने कहा कि, इसमें कोई शक नहीं है कि महाविकास आघाड़ी की सरकार अगले 5 सालों तक चलेगी और अगले चुनाव में NCP का वर्चस्व बनेगा।

Read this story in English or मराठी
संबंधित विषय
Advertisement