मनसे का एक तीर से दो निशाना

 Dadar
मनसे का एक तीर से दो निशाना

दादर - चुनावों में बयानबाजी और पोस्टरबाजी का होना आम बात है। कहा यह भी जाता है कि राजनीति में न तो कोई परमानेंट दोस्त होता है और ना ही कोई दुश्मन। इसका ताजा उदाहरण देखने को मिला बीजेपी और मनसे के बीच। अकसर विपक्षी दल, बीजेपी और मनसे पर अंदरूनी रूप से एक दूसरे को समर्थन देने का आरोप लगाते रहते हैं। लेकिन अब इन दोनों पार्टियों में पोस्टरवार छिड़ गया है। दादर का कोहिनूर दीवार पेंटिंग मुद्दा अभी थमा भी नहीं था कि मनसे ने एक बार फिर बीजेपी के खिलाफ पोस्टरवार छेड़ दिया है। मनसे के नेता और नगरसेवक संदीप देशपांडे ने फिर से कोहिनूर स्क्वायर बिल्डिंग की दीवार पर बैनर लगा कर पीएम मोदी पर निशाना साधा है।

इस बैनर में मोदी को बाबासाहब स्मारक के लिए भूमिपूजन करते हुए दिखाया गया है। जिस पर मनसे ने कहा है कि शिवस्मारक पूजन करते समय मोदी बाबा आम्बेकर के स्मारक को भूल गये क्या? रविवार को पीएम मोदी शिव स्मारक के लिए मुंबई आये थे लेकिन उन्होंने बाबा आंबेडकर के स्मारक का नाम नहीं लिया। जिसे लेकर मनसे ने यह पोस्टरवार को हथियार बनाया। मनसे इस पोस्टर के जरिए एक तीर से दो निशाना बनाया है। एक तरफ वह आंबेडकर स्मारक का नाम लाकर अपने आप को दलितों का मसीहा सिद्ध कर रही है तो दूसरी तरफ बीजेपी पर हमला भी कर रही है। अब इस पोस्टरवार का बीजेपी क्या जवाब देगी यह तो आने वाले समय में ही पता चलेगा।

Loading Comments