शिवसेना को किसने कहा ‘संधीसाधू’?

 CST
शिवसेना को किसने कहा ‘संधीसाधू’?

सीएसटी - बीएमसी चुनाव की पृष्ठभूमि पर शिवसेना ने हार्दिक पटेल का मातोश्री पर स्वागत किया था। उनकी यह कोशिश गुजराती समाज के वोट को खींचने के लिए थी। शिवसेना हमेशा मौके की तलाश में रहती है, शिवसेना को संधीसाधू कहना गलत नहीं होगा, शिवसेना पर इस तरह का आरोप संभाजी ब्रिगेड के प्रवक्ता सुहास राणे ने लगाया है।  

संभाजी ब्रिगेड ने हार्दिक पटेल के खिलाफ और शिवसेना को मात देने के लिए चिराग पटेल को बुलाया था। 

बीएमसी चुनाव में संभाजी ब्रिगेड पहली बार कूद रही है। इस मौके पर चिराग ने हार्दिक पटेल को नादान करार दिया। साथ ही उन्होंने कहा कि गुजरात के पाटीदार समाज पर अन्याय करने वाली पार्टी बीजेपी की सहयोगी शिवसेना के ताम झाम में कभी भी फंसने वाली है। 

 

Loading Comments