सनातन संस्था ने नवाब मलिक को 10 करोड़ रूपये मानहानि का भेजा नोटिस

एक मराठी अखबार में 11 अगस्त को नवाब मलिक का बयान छापा था। उस अख़बार ने नवाब मलिक के हवाले से लिखा था कि ‘सनातन संस्था आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त है। इसी खबर को लेकर संस्था ने आपत्ति जताया है

SHARE

सनातन संस्था ने एक खबर को लेकर एनसीपी नेता और प्रवक्ता नवाब मलिक को 10 करोड़ रूपये मानहानि का नोटिस भेजा है। दरअसल सनातन संस्था ने नवाब मालिक के उस इंटरव्यू पर आपत्ति जताई है जिसमें नवाब मलिक ने कहा था कि सनातनसंस्था आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त है।

क्या था मामला?

आपको बता दें कि एक मराठी अखबार में 11 अगस्त को नवाब मलिक का बयान छापा था। उस अख़बार ने नवाब मलिक के हवाले से लिखा था कि ‘सनातन संस्था आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्त है। इसी खबर को लेकर संस्था ने आपत्ति जताते हुए  कहा है कि संस्था के खिलाफ गलत खबरें फैलाई का आज रही है। इससे संस्था की छवि खराब हो रही है। इसके बाद संस्था की तरफ से मलिक को 10 करोड़ रूपये मानहानि का नोटिस भेज दिया गया।

इस मामले में मलिक ने कहा कि वह कानूनी लड़ाई लड़ने के लिए तैयार हैं। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि वह नोटिस का जवाब कानून से देंगे।


आतंकी गतिविधियों में संलिप्त संस्था?

गौरतलब है कि नालासोपारा हथियार बरामदगी मामले में एटीएस ने कई लोगों को गिरफ्तार किया है जिनका ताल्लुक सनातन संस्था से बताया जा रहा है। यही नहीं एटीएस ने अपनी जांच में यह भी कहा कि इस संस्था के लोग त्योंहारों के मौके पर ब्लास्ट करने वाले थे। एटीएस ने यह भी दावा किया है कि इस संस्था के सदस्यों के तार नरेंद्र दाभोलकर, गौरी लंकेश मर्डर मामले से भी जुड़े हो सकते हैं।

इसके बाद कांग्रेस, एनसीपी सहित तमाम विपक्षी दलों ने इस संगठन पर पाबंदी लगाने की मांग की थी।

संबंधित विषय
ताजा ख़बरें