Advertisement

Maharashtra Assembly Election 2019: अपने ही घर में हारी शिव सेना

बांद्रा पूर्व से शिव सेना के उम्मीदवार और मुंबई के महापौर विश्वनाथ महाडेश्वर को हार का सामना करना पड़ा है। यहां से कांग्रेस के उम्मीदवार जीशान सिद्दीकी ने जीत दर्ज की है।

Maharashtra Assembly Election 2019: अपने ही घर में हारी शिव सेना
SHARES

 

शिव सेना को उसके घर में ही जोरदार झटका लगा है। बांद्रा पूर्व से शिव सेना के उम्मीदवार और मुंबई के महापौर विश्वनाथ महाडेश्वर को हार का सामना करना पड़ा है। यहां से कांग्रेस के उम्मीदवार जीशान सिद्दीकी ने जीत दर्ज की है। आपको बता दें कि बांद्रा पूर्व में ही मातोश्री स्थित है जहां उद्धव ठाकरे परिवार समेत रहते हैं।

इस सीट से शिव सेना की वर्तमान विधायक तृप्ती सावंत टिकट मांग रही थी लेकिन पार्टी ने उनकी जगह  विश्वनाथ महाडेश्वर पर भरोसा जताया, जिससे नाराज हो कर तृप्ती सावंत ने निर्दलीय चुनाव लड़ा। इसका फायदा जीशान को मिला। जानकारों के अनुसार विश्वनाथ महाडेश्वर के हारने का कारण एक यह भी है कि लोगों का वोट महाडेश्वर और तृप्ती सावंत में बंट गया। जीशान सिद्दीकी कांग्रेस नेता बाबा सिद्दीकी के बेटे हैं।

जीशान सिद्दीकी को जहां 37,636 वोट मिले तो वहीँ विश्वनाथ महाडेश्वर को 23,069 वोट मिले जबकि तृप्ती सावंत के खाते में भी 23,856 वोट आये। अगर तृप्ति बगावत नहीं करतो तो यह वोट विश्वनाथ महाडेश्व को मिलते थे, लेकिन वोट बंट गया जिसका फायदा कांग्रेस के नेता जीशान को मिल गया।

आपको बता दें कि टिकट नहीं मिलने पर तृप्ति ने मातोश्री के बाहर अपने समर्थकों के साथ काफी हंगामा भी किया था, जिसके बाद कई नेताओं ने इन्हें पार्टी से बहार निकालने की मांग भी की थी।

तृप्ति सावंत शिव सेना नेता और विधायक बाळा सावंत की पत्नी हैं, बाला सावंत ने साल 2014 में इसी सीट से विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी, लेकिन साल 2015 में बाला सावंत की मौत हो गयी तो उपचुनाव में शिव सेना ने उनकी पत्नी तृप्ति सावंत को टिकट दिया। इस उपचुनाव में तृप्ति ने कांग्रेस के दिग्गज नेता नारायण राणें को 20 हजार से भी अधिक वोटों से हराया था।

Read this story in English
संबंधित विषय
Advertisement