महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव - शिवसेना ने जारी किया घोषणापत्र

घोषणापत्र में शिवसेना ने गरीब किसानों को हर साल 10 हज़ार की आर्थिक मदद, ज़रूरतमंदों  को 10 रुपये में खाना देने का वादा किया है

SHARE

महाराष्ट्र में होनेवाले विधानसभा चुनाव के लिए शिवसेना से शनिवार को अपना घोषणापत्र जारी कर दिया। इस घोषणापत्र ने शिवसेना ने गरीब किसानों को हर साल 10 हज़ार की आर्थिक मदद, ज़रूरतमंदों  को 10 रुपये में खाना देने का वादा किया है। इसके साथ हीकिसानों को संपूर्ण कर्जमाफी (सातबारा कोरा), केवल एक रुपए में मरीजों की प्राथमिक स्वास्थ्य जांच की सुविधा उपलब्ध कराने जैसी लुभावनी योजनाओं की बात कही गई है।


मातोश्री में घोषणापत्र जारी करते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने कहा कि उन्होंने इस ‘वचननामे’ में उन्हीं बातों को रखा है, जिसे पूरा कर सकते हैं। यह वादे बहुत रिसर्च के बाद किए गए हैं। मतदान से पहले सभी दलों को अपनी भूमिका स्पष्ट करनी चाहिए। शिवसेना तो चर्चा के लिए तैयार है। घोषणापत्र जारी करते समय उद्धव ठाकरे के साथ साथ , आदित्य ठाकरे और प्रियंका चतुर्वेदी भी मौजूद रही।  


आरे और राम मंदिर का जिक्र नहीं

शिवसेना ने अपने घोषणापत्र में आरे और राम मंदिर का जिक्र नही किया है। उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्‍य ठाकरे ने बताया कि मुंबई के घोषणापत्र में आरे के मामले को शामिल किया गया है,चूंकि यह विधानसभा का चुनाव है, लिहाजा इसे राज्‍य स्‍तरीय घोषणापत्र में जगह नहीं दी गई है।

घोषणापत्र की मुख्य बातें


  • महिला बचत समूहों की सहायता से प्रत्येक जिले में कैंटीन स्थापित की जाएगी।
  • ग्रामीण छात्रों के लिए विशेष बसें शुरू की जाएंगी।
  • तीर्थ यात्राओं के लिए समन्वय केंद्र स्थापित किए जाएंगे।
  • पांच साल तक उर्वरकों के दाम स्थिर रहने की व्यवस्था की जाएगी।
  • किसानों को 10 हजार रुपये सालाना का भुगतान और किसानों को कर्ज मुक्त किया जाएगा।
  • वरिष्ठ नागरिकों और महिलाओं के लिए वादों में विशेष प्रावधान।
  • एक रुपये में स्वास्थ्य परीक्षण करने की योजना।
  • घरेलू उपयोग की बिजली पर दरों में 30 फीसदी तक की कमी की जाएगी।
संबंधित विषय
ताजा ख़बरें